कपड़े व्यापारी नाराज़,जीएसटी हुआ 12 परसेंट

मंदसौर। जीएसटी 5 प्रतिशत से बढ़ाकर 12 प्रतिशत करने के विरोध में गुरुवार को कपड़ा बाजार पूरी तरह से बंद रहा, कपड़ा व्यापारियों ने जीएसटी को इस तरह बढ़ाने के विरोध में दुकानें बंद रखी, जिससे बाजार में सन्नाटा पसरा नजर आया, चूंकि कपड़े पर जीएसटी बढऩे से उसका भार आम उपभोक्ता पर भी पड़ेगा, ऐसे में व्यापारियों द्वारा इसका कड़ा विरोध किया जा रहा है।
कपड़ा बाजार में इस समय 5 प्रतिशत जीएसटी लगता है। इसको बढ़ाकर 12 प्रतिशत किया गया है। इसके विरोध में गुरुवार को शहर में कपड़ों की दुकानों पर ताले लटके हुए नजर आए। इसके पूर्व भी कपड़ो व्यापारी विरोध दर्ज करा चुके हैं। आज दुकानें बंद रखकर सरकार के फैसले का विरोध किया गया है। कपड़ा व्यापारी संघ के पदाधिकारियों ने बताया कि यह 12 प्रश जीएसटी उपभोक्ताओं पर भारी पड़ेगा। वैसे भी कोरोना के कारण कपड़ा मार्केट की कमर टूट चुकी है। सरकार सिर्फ व्यापारियों को परेशान कर रही है। सरकार ने अडलियल रवैया अपना रखा है। जब दो से बढ़ाकर पांच प्रश जीएसटी दर तय की गई तो राष्ट्रहित में उसको स्वीकार किया गया था। व्यापारियों का शोषण किया जा रहा है।