30 साल में आया है नाग पंचमी का महुरत(naag punchmi mahurat update )

हिंदू धर्म में सभी त्योहारों का अपना अलग महत्व है। ऐसा माना जाता है कि यहां सभी त्योहारों में ईश्वर के पूजन से मनोकामनाओं की पूर्ति होती है। इन्हीं त्योहारों में से नाग पंचमी के त्योहार का भी सनातन धर्म में विशेष महत्व है।

यह हर साल सावन के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाया जाता है और इसमें भगवान शिव के साथ नाग यानी सांपों की पूजा का भी विधान है। यह त्योहार पूरी तरह से भगवान शिव को समर्पित है।

ऐसी मान्यता है कि इस पर्व में नाग पंचमी पर नागों की पूजा करने से अपार धन और मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है। आइए ज्योतिषाचार्य एवं वास्तु विशेषज्ञ डॉ आरती दहिया से जानें इस साल कब मनाई जाएगी नाग पंचमी और इस त्योहार में ऐसे कौन से संयोग बन रहे हैं जो आपके लिए लाभदायक है। इस साल की नाग पंचमी कुछ ख़ास है क्योंकि इसमें दो शुभ संयोग बन रहे हैं। दरअसल इस दिन मंगला गौरी व्रत भी रखा जाएगा। इस प्रकार नाग पंचमी के दिन भगवान शिव के साथ माता पार्वती की कृपा पाने का भी शुभ संयोग बन रहा है। इस दिन यदि आप भगवान शिवके साथ माता पार्वती की पूजा भी करेंगे तो ये आपके लिए लाभकारी होगा। इस साल नागपंचमी के दिन शिव व सिद्धि योग का शुभ संयोग बन रहा है। शिव योग 2 अगस्त को शाम 06 बजकर 38 मिनट तक है इसके बाद सिद्धि योग शुरू होगा।