15 जनवरी से रतलाम-कोटा-रतलाम पटरियों पर


मंदसौर। दो सालों से बंद रतलाम-मथुरा लोकल सवारी गाड़ी के स्थान रेलवे द्वारा उसी समय सारणी के अनुसार 15 जनवरी से रतलाम-कोटा-रतलाम के बीच अनारक्षित मेमू ट्रेन चलाने की घोषणा कर दी थी। आखिरकार आज से मेमू शुरु हो गई। अब मेमू ट्रेन प्रतिदिन रतलाम से सुबह 7.05 बजे प्रस्थान कर बांगरोद, खाचरोद, नागदा आठ बजे, रोहलखुर्द 8.32 बजे, महिदपुर रोड़ 8.40 बजे, लूनी रिछा 8.50 बजे, विक्रमगढ़-आलोट नौ बजे, थूरिया 9.10 बजे, तलावली 9.19 बजे, चौमहला 9.25 बजे, नाथूखेड़ी 9.34 बजे, सुवासरा 9.42 बजे, शामगढ़ 9.55 बजे, गरोठ 10.05 बजे, कुरलासी 10.15 बजे, भवानीमंडी 10.30 बजे, धुआंखेड़ी 10.40 बजे, झालावाड़ 10.50, रामगंजमंडी 11.05 मोरक 11.15, कंवलपुरा 11.22, दरा 11.40, रावठारोड़ 11.53, अलनिया 12.20, दाढ़देवी 12.35, डकनिया तालाब 12.45 और कोटा दोपहर 1.25 बजे पहुंचेगी। कोटा से वापसी रतलाम के लिए मेमू ट्रेन दोपहर 1.40 से प्रस्थान कर डकनिया तालाब 1.52, दाढ़देवी दो बजे, रामगंजमंडी तीन बजे, भवानीमंडी 3.35, गरोठ 3.58, शामगढ़ 4.10, सुवासरा 4.45, विक्रमगढ़ आलोट 5.15, महिदपुर 5.50, नागदा 6.30 बजे नागदा से रात आठ बजे रतलाम पहुंचेगी। कोटा रेल मंडल जनसंपर्क अधिकारी अजयकुमार पाल ने बताया कि मेमू ट्रेन को रतलाम-मथुरा लोकल की समय सारणी अनुसार ही चलाया जा रहा है। रतलाम रेल मंडल की वर्षो पुरानी रतलाम मथुरा लोकल सवारी गाड़ी को रेलवे ने दो सालों से बंद कर रखा है।