सनातन धर्म नही जीवन शैली-बापू चिन्मयानंद (latest news in hindi danik patallok mandsaur)


सनातन धर्म नहीं बल्कि जीवन जीने का एक तरीका है,हिंदुत्व में धर्मनिरपेक्षता समाहित है क्योंकि सनातन के पहले कोई दूसरे मजहब नही थे ये उद्गगार पूज्य संत चिन्मयानंद बापू ने दैनिकपातालोक के संस्थापक मोहन रामचंदानी के निवास पर आयोजित एक कार्यक्रम में पाताललोक न्यूज़ की संपादक प्रियंका से बातचीत में कही
इसके पूर्व अपने धार्मिक प्रवचन में उन्होंने कहा कि धर्म का पालन सभी को करना चाहिए क्योंकि धर्म का पालन।याने अपने  स्वभाव का पालन करना है
बापू के प्रवचन सुनने के लिए बड़ी संख्या में महिलाएं बुज़ुर्ग सिंधी समाज के वरिष्ठ जन उपस्थित थे
इसके पूर्व बापू के स्वागत में नगरपालिका अध्यक्ष रमादेवी गुर्जर ने कहा कि सन्तो का सानिध्य बड़े पुण्य से प्राप्त होता है