शक्ति कि भक्ति नवरात्रि के पावन पर्व पर नवशक्ति हाई स्कूल में कन्या पूजन का आयोजन किया(latest news in hindi danik patallok mandsaur)

सीतामऊ। यत्र नार्यस्तु पूज्यन्ते रमन्ते तत्र देवताः । जहाँ स्त्रियों की पूजा होती है वहाँ देवता निवास करते हैं और जहाँ स्त्रियों की पूजा नही होती है, उनका सम्मान नही होता है वहां किये गये समस्त अच्छे कर्म निष्फल हो जाते हैं। जिस कुल में स्त्रियाँ कष्ट भोगती हैं ,वह परिवार नष्ट हो जाता है और जहाँ स्त्रियाँ प्रसन्न रहती है उस परिवार में सदैव खुशियां और समृद्धि बढ़ती रहती है । स्त्री के तीन रुप शक्ति के रूप में दुर्गा धन धान्य समृद्धि कि देवी में लक्ष्मी तथा विद्या विवेक की देवी में सरस्वती है। जहां नारी शक्ति कि पूजन सम्मान होता है वहां मां लक्ष्मी सरस्वती और दुर्गा का सदैव आशीर्वाद बना रहता है। भारतीय संस्कृति सनातन धर्म में नारी पूजा सम्मान प्राचीन परंपरा रही है इसी परंपरा के अंतर्गत नगर के नवशक्ति हाई स्कूल सीतामऊ में मुख्य अतिथि नगर परिषद अध्यक्ष श्री मनोज शुक्ला विशेष अतिथि संचालक श्री सत्यप्रकाश त्रिवेदी श्री मुकेश कारा एवं प्राचार्य श्री नरेन्द्र दुबे कि उपस्थित में माता नवदुर्गा के तस्वीर फुल माला अर्पित कर नौ कन्याओं कि पूजन कर आशीर्वाद प्राप्त किया।