विश्व फोटोग्राफी दिवस पर फोटो जर्नलिस्ट ग्रुप ने ‘मेरे शहर की बारिश’ विषय पर आयोजित की गई दो दिवसीय फोटो प्रतियोगिता का हुआ समापन

पत्रकार किशोर ग्वाला ने प्राप्त किया प्रथम पुरस्कार, अंजुम शाह द्वितीय एवं सुरेखा  सोनी तृतीय रही

मंदसौर। फोटो जर्नलिस्ट ग्रुप मंदसौर  द्वारा विश्व फोटोग्राफी दिवस के अवसर पर ‘मेरे शहर की बारिश’ विषय पर आयोजित की गई दो दिवसीय फोटो प्रतियोगिता का शनिवार को समापन हुआ। प्रतियोगिता में 70 प्रतिभोगियों ने भाग लिया। प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार पत्रकार किशोर ग्वाला ने प्राप्त किया। द्वितीय पुरस्कार अंजुम शाह और तृतीय पुरस्कार श्रीमती सुरेखा सोनी ने प्राप्त किया। सभी प्रतिभागियों को सांत्वना पुरस्कार से सम्मानित किया गया। प्रतियोगिता का अायोजन नगरपालिका सभागार में हुआ।

समापन समारोह में मुख्य अतिथि विधायक श्री यशपालसिंह सिसोदिया ने कहा कि ऐसी प्रतियोगिताओं से प्रेरणा मिलती है, लोग प्रेरित होते हैं। फोटाेग्राफी आइना दिखाने का काम करती है। फोटो ही खबर की सत्यता को बेहतर तरीके से प्रमाणित करती है। प्रतियोगिता का विषय समय के अनुकुल है। प्राकृतिक आपदाए आती है जो किसी को नहीं पहचानती है। समसामयिक विषय पर यह प्रतियोगिता आयोजित की गई है। बारिश के दौरान उपस्थित होने वाले सभी तरह के दृश्य हमें प्रतियोगिता के प्रतियोगियों ने अपने-अपने फोटो के माध्यम से दर्शाया है। यह प्रतियोगिता बहुत ही अच्छी है, इस तरह की प्रतियोगिताएं लगातार होना चाहिये। इससे प्रतिभाओं को उभरने का मंच मिलता है। इस अवसर पर विधायक यशपालसिंह सिसोदिया ने आयोजन के लिये स्वेच्छा निधि से 20 हजार रुपये की घोषणा भी की।

वरिष्ठ पत्रकार श्री ब्रजेश जोशी ने कहा कि प्रतियोगिता में सभी प्रतिभागियों ने एक से बढ़कर एक फोटो लगाये है, इन फोटो में सर्वश्रेष्ठ फोटो का चयन करना प्रतियोगिता के निर्णायकों के लिये भी चुनौतीपूर्ण रहा होगा। यह प्रतियाेगिता बहुत ही सुंदर है, बहुत बड़ा संदेश दे रही है। वरिष्ठ पत्रकार श्री घनश्याम बटवाल ने कहा कि फोटो बहुुत कुछ दर्शाते है, आज मोबाइल के दौर में फोटो खिंचने का हुनर हर व्यक्ति में आ गया है। फोेटोग्राफी अपने आप बाेलती है। फोटोग्राफी नहीं होती तो हम अपने बीते कल की यादों को सहेज नहीं पाते। फोटाग्राफी बहुत प्राचीन कला है। फाेटोग्राफी अनुभव है। यह प्रतियोगिता बहुत ही अच्छी है। श्री लालबहादुर श्रीवास्तव ने कहा कि कला, संगीत और साहित्य हमें आगे की ओर ले जाती है। चित्र बोलते है, चित्र अभिव्यक्ति का माध्यम है। इस प्रतियोगिता की प्रदर्शनी में सभी प्रतियोगियों ने बहुत अच्छे फोटो लगाये है, कला के क्षेत्र में सभी प्रतियोगी आगे बढ़े यहीं शुभकामनाएं। समाजसेवी नाहरू खां मेव ने कहा कि फोटो सच्चाई को प्रदर्शित करते है। मेरे शहर की बारिश विषय पर प्रतियोगियों ने अपने फोटो के माध्यम से बारिश के बहुत अच्छे दृश्य बताये है। नवनिर्वाचित पार्षद श्रीमती भारती पाटीदार ने कहा कि फोटो से हमें घटनाओं की सत्य जानकारी मिलती है, फोटो विश्वास बढ़ाते है। फोटो प्रतियोगिता में शहर की बारिश के बहुत ही अच्छे दृश्य प्रतियोगियों ने अपने फोटो में दर्शाएं है। भाजपा नेता श्री धीरज पाटीदार ने कहा कि प्रतियोगिता में सभी फोटो एक से बढ़कर एक है। यह प्रतियोगिता बहुत बड़ा नवाचार है। हमें अपना समय प्रतिभा को उबारने में लगाकर अपने आप को प्रतिभाशाली बनाये। हम जब भी फोटो खिंचे वह फोटो प्रेरणादायी हो, उत्साहवर्धन करने वाला होना चाहिये। प्रतियोगिता में निर्णायक वरिष्ठ पत्रकार श्री घनश्याम बटवाल, जेके जैन एवं श्री लालबहादुर श्रीवास्तव थे।