वित्तमंत्री जी खजाना कभी किसान, गरीब,मजदूरों के लिए भी खोलो – सिसौदिया

लामगरा डूब प्रभावितों को मिले शीघ्र मुआवजा,कांग्रेसजनों ने जल सत्याग्रह कर किया विरोध ।

मन्दसौर। मल्हारगढ़ विधानसभा क्षेत्र के लामगरा तालाब में करीब सौ किसानों की करीब पचपन हेक्टर कृषि भूमि डूब क्षेत्र में चालीगई है प्रभावित किसानों को आज तक मुआवजा नही मिला।
बुधवार को ब्लॉक कांग्रेस कमेटी जिला किसान कांग्रेस द्वारा कांग्रेस नेता परशुराम सिसौदिया के नेतृत्व में प्रभावितों के साथ कांग्रेसजनों ने दो घन्टे तक जल सत्याग्रह कर विरोध प्रदर्शन कर जमकर नारेबाजी की।
इस मौके पर कांग्रेस नेता परशुराम सिसौदिया ने कहा कि क्षेत्र के विधायक व प्रदेश सरकार के वित्तमंत्री जगदीश देवडाजी के खजाने की चाबी किसान,गरीब,मजदूर के लिए नही खुलती है वह कहते जरूर है कि चिंता मत करो खजाने की चाबी मेरे पास है।सिसौदिया ने कहा कि लम्बे समय से लामगरा तालाब में कृषि भूमि डूब के किसान अपनी जायज मांगो को लेकर प्रयासरत है किंतु उनकी समस्या का समाधान आज तक नही हुआ । कांग्रेस लगातार प्रयास कर रही है कि इन्हें न्याय मिल इसी को लेकर आज यह जलसत्याग्रह किया गया है।

ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष किशोर गोयल ने कहा की अगर भाजपा सरकार ने अब भी इन अन्नदाता किसानों की नही सुनी तो कांग्रेस जन उग्र आंदोलन करेंगे।

ज्ञात हो गांव लामगरा,लांमगरी,जमुनिया,हतुनिया,पटलावद आदि गांवों की लगभग सौ किसानों की पचपन हेक्टेयर जमीन तालाब के पानी मे हर साल पानी मे डूब जाती है।

राज्यपाल के नाम का ज्ञापन नायब तहसीलदार राहुल डाबर को पीड़ित किसानों के मासूम बच्चों के हाथो सौंपा गया ।
ज्ञापन का वाचन धुँधड़का ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष किशोर गोयल किया ।
इस मौके पर जिला किसान कांग्रेस अध्यक्ष बद्रीलाल धाकड़, युवा कांग्रेस ब्लाक अध्यक्ष राम लक्ष्मण धाकड़, किसान कांग्रेस ब्लाक अध्यक्ष मनीष शर्मा, जिला कांग्रेस सचिव सलीम मंसूरी,कांग्रेस नेता मुकेश धाकड़, जनपद सदस्य प्रतिनिधि मुकेश बामनिया,सरपंच लतीफ मंसूरी, कांग्रेस नेता नरसिंह सोलंकी, पूर्व सरपंच कैलाश नाथ योगी, सेक्टर अध्यक्ष रंजीत धाकड़, राजू डांगी,मंगलदास बैरागी,देवेंद्र सिंह पटलावद, गोकुल गुर्जर, जवाहर लाल डांगी, दीपक सैन, साजिद मंसूरी, अंसार मंसूरी ,पंकज धाकड़,मनीष मीणा,राजू गुर्जर,दिनेश सूर्यवंशी,मुबारिक मंसूरी, नंदकिशोर राठौर, दिनेश परिहार, गोपाल बागरी, रूघनाथ भुर, विनोद भुर, वर्दीचंद मालवीय,परमानंद परिहार,हेमराज भील आदि ग्रामीण जन जलसत्याग्रह में उपस्थित थे ।