लायंस क्लब द्वारा सेवानिवृत्त 55 शिक्षकों का सम्मान(latest news in hindi danik patallok mandsaur)

मन्दसौर। लायंस क्लब ने बड़े उमंग और उत्साह के साथ भूतपूर्व राष्ट्रपति भारत रत्न सर्वपल्ली डॉ. राधाकृष्णन का जन्मदिन मनाया।
लांयस क्लब द्वारा आयोजित सर्वपल्ली डॉ. राधाकृष्णन के जन्मदिन के अवसर पर शिक्षक दिवस के रूप में सेवानिवृत्त शिक्षकों को सम्मानित करते हुए सांसद श्री  सुधीर गुप्ता ने अपने उद्बोधन में कहा कि वर्तमान शिक्षा प्रणाली और गुरू शिक्षा प्रणाली में बहुत अन्तर है। अंग्रेजों ने हमारी गुरूकुल शिक्षा प्रणाली पर प्रहार करते हुए उसे तहस नहस करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। अंग्रेज मैकाले ने गुरुकुल व्यवस्था को समाप्त करने में अहम भूमिका निभाई थी। जिसके कारण हम हमारी वास्तविक शिक्षा प्रणाली से कोसो दूर हो गये। शासकीय व्यवस्था के अंतर्गत शिक्षा व्यवस्था सीमित रह गई है। आध्यात्मिक और सामाजिक ज्ञान नगण्य हो गये, जिसके कारण हमारे बच्चे मोटी-मोटी पुस्तकों के तले दबते जा रहे है। नूतन स्कूल के हॉल में आयोजित इस कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि मैं इसी विद्यालय का छात्र रहा हूॅ, मेरे परिवार के वरिष्ठ इस स्कूल के प्रधानाध्यापक रहे, मैं शिक्षक परिवार से आता हूॅ। मेरा शिक्षकों के प्रति बड़ा सम्मान है, आदर है। मैं आप सभी शिक्षकों को नमन करता हूँ तथा शिक्षक दिवस की शुभकामना देता हूॅ।
कार्यक्रम के प्रारंभ में भूतपूर्व राष्ट्रपति एवं मॉ सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्वलित किया। पुष्पहारों से स्वागत लायन अध्यक्ष सुनील विजयवर्गीय, सचिव नेमकुमार गांधी, बलजीतसिंह नारंग, झोन चेयर पर्सन विकास भण्डारी, विजय सुराना, राजेन्द्र पामेचा, विकास अग्रवाल एवं सेवानिवृत्त शिक्षकों की ओर से श्री अशोक शर्मा एवं अजीजुल्लाह खान ने किया।