मन्दसौर पुलिस ने किया बड़ा पर्दाफाश अपहरण कर महिला और नाबालिग को बेचा, आधा दर्जन से ज्याद आरोपी धराए

मंदसौर। पुलिस ने मानव तस्करी के मामले में बडा खुलासा किया है। एक महिला और एक नाबालिग को बेचा गया। इस मामले में पुलिस ने आधा दर्जन से ज्यादा को पकडा है। आरोपियों से पूछताछ जारी है। एसपी अनुराग सुजानिया ने प्रेसवार्ता में बताया कि 7 अप्रैल 2021 को एक नाबालिग का अफजलपुर थान क्षेत्र से अपहरण कर लिया गया। जिसकी रिपोर्ट पुलिस ने दर्ज कर जांच शुरू की।
फजलपुर थाना प्रभारी कमलेष सिंगार द्वारा विशेष टीम गठित कर उक्त के संबध में असूचना संकलित की गई जिस पर से अपहृत नाबालिक युवती और बालिक युवती को दस्तयाब किया गया जिन्होने पृथक पृथक बताया कि दिनांक 07.04.2021 को उसकी पडोसी सुमनबाई पति किशोरनाथ कालबेलिया व सुमन की नंनद ने उसे और उसके बडे पापा की लडकी को बहला फुसलाकर कहा कि सुमन की मा शैतान बाई पति गोरखनाथ कालबेलिया नि ग्राम चैकी थाना रिंगनोद की जान पहचान ऐसे लोगो से हैं जो तुम्हे शादी कर अच्छे से रखेगे तथा सोने के हार कंगन पहनायेगे। यह काम शैतानबाई और उसका लडका कैलाष नाथ कालबेलिया मिलकर करते हैं।
07.04.2021 को योजनाबद्ध तरीके से सुमन बाई और उसकी नंनद ने नाबालिक युवती और उसके बडे पापा की लडकी उसके दो बच्चो को गाव के बाहर ले गये जहा पर कैलाष नाथ का छोटा भाई राहुल नाथ मोटर साईकिल लेकर उनका इंतजार कर रहा था। राहुल नाबालिक युवती और बालिक युवती तथा उसके दो बच्चों को मोटर साइकिल पर बिठाकर जावरा हुसैन टेकरी ले गया। जहा पर पहले से शैतानबाई और उसका लडका कैलाष नाथ मय मोटरसाईकिल के इंतजार कर रहे थे। हुसेन टेकरी से दोनो मोटरसाईकिल पर कैलाषनाथ और राहुल ने नाबालिक युवती, बालिक युवती उसके दो बच्चे, शैतानबाई को साथ में बिठाकर जावरा की जैन ढाबे के पास प्रेसीडेंट होटल में ले गये थे। जहा पर एक कमरा बुक करवा कर यह लोग साथ में रुके थे। उक्त कमरे मे राहुल और कैलाष ने नाबालिक युवती और उसकी बहन के साथ बलात्कार किया था। बाद में कैलाषनाथ दोनो युवती और दोनो बच्चो को जोधपुर बस से कृपालसिह पिता कालुसिह सौधिया राजपुत के यहा ले गया था। अगले दिन कृपालसिह बालिक लडकी और उसके बच्चो को जोधपुर मे अपने घर पर छोड कर नाबालिक युवती को जोधपुर से लेकर ग्राम तरोट जिला उज्जैन के विक्रमसिह पिता रामसिह सौधिया राजपुत को 1,50,000 रुपये में बेच दिया था।
युवती को बेचकर कृपालसिह वापस जोधपुर आया। बालिक युवती अपने बच्चो के साथ लगभग डेढ माह तक कृपालसिह के यहा रही जहा पर कृपालसिह ने उसके साथ बलात्कार किया। डेढ महिने बाद शैतानबाई बालिक युवती और उसके दोनो बच्चे को लेकर जावरा आयी जहा पर कैलाष नाथ व उसकी मॉ शैतानबाई ने उसे व उसके दोनो बच्चो को आलोट ले जाकर भेरुलाल पिता गंगाराम तेली के खेत कुए पर रखा कृपालसिह ने युवती और उसके दोनो बच्चो को गणपत पिता शंभुलाल सुर्यवंषी नि सवाखेडी जिला आगर को 90,000 रुपये मैं शादी के लिये बेच दिया जहा पर गणपत ने भी उसके साथ उसकी मर्जी के विरुद्ध डरा धमका कर गलत काम किया। गणपत ने युवती और उसके दोनो बच्चो को सरपंच गोविद सिह लसुडिया डग बडोद जिला आगरमालवा को गवाही में रखकर 1,50,000 रुपये मैं नागुलाल पिता प्रभुलाल मेघवाल उम्र 22 साल नि गडा थाना डग जिला झालावाड राजस्थान को 1,50,000 रुपये में बेच दिया था।
पुलिस ने मामले में सुमनबाई पति किशोर नाथ कालबेलिया नि जोगीखेड़ा थाना अफजलपुर, मंदसौर सुमन की ननद नाबालिक युवती नि ग्राम जोगीखेडा जिला मंदसौर शैतानबाई कालबेलिया पति गोरखनाथ कालबेलिया ग्राम चैकी थाना रिंगनोद जिला रतलाम कैलाष नाथ उर्फ बालु नाथ कालबेलिया पिता गोरखनाथ कालबेलिया नि ग्राम चैकी थाना रिंगनोद जिला रतलाम राहुल पिता गोरखनाथ कालबेलिया नि ग्राम चैकी थाना रिंगनोद जिला रतलाम कृपालसिह सौधिया राजपुत पिता कालूसिह सौधिया राजपुत नि माल्या, झार्डा, महिदपुर जिला उज्जैन हामु जोधपुर राजस्थान विक्रमसिह पिता रामसिह सौधिया राजपुत नि ग्राम तरोट जिला उज्जैन पकड लिया है।