मंदसौर जिले के किसान दिल्ली में बैठे धरने परराष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ के जिलाध्यक्ष महेश व्यास लदूसा ने गले में प्याज व लहसून की माला पहनकर रखा किसानों की मांगों को (latest news update danik patallok )


  मन्दसौर। संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा दिल्ली के जंतर मंतर पर एमएसपी गारंटी कानून को लेकर 22 अगस्त को विशाल धरना प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन  राष्ट्रीय नेता संयुक्त किसान मोर्चा के संयोजक शिवकुमार कक्काजी, जगदीपसिंह दल्लेवाल, केरल के बिजुजी महाराष्ट्र के शंकर जरेकर आदि किसान नेताओं के नेतृत्व में किया गया। मंदसौर से राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ के जिलाध्यक्ष महेश व्यास लदूसा के नेतृत्व में भी किसानों ने दिल्ली में धरना प्रदर्शन किया। जिलाध्यक्ष महेश व्यास लदूसा ने गले में प्याज व लहसुन से बनी माला पहनकर किसानों की मांगों को रखा।
धरने को संबोधित करते हुए महेश व्यास ने कहा कि लहसुन एवं प्याज के भाव में भारी गिरावट होने के कारण लागत मूल्य तक नहीं निकल पा रही है। इसलिये लहसुन पर प्रति क्विंटल 3000 रू. बोनस एवं प्याज पर 1000 रु. प्रति क्विंटल बोनस देकर किसान को हो रहे घाटे से बचाये और ज्यादा उत्पादन होने पर उपज को फेकना पड़ती है, इसलिये भण्डारण क्षमता बढ़ाई जाये।  मंदसौर में 2019-20 में भावान्तर में खरीदी गई प्याज का भावान्तर का पैसा जल्द किसानों के खातों में डाला जाये।
धरने पर अन्य मुख्य मांगे सभी फसलों पर एमएसपी गारंटी कानून बने, आंदोलन में शहीद किसानों को शहीद का दर्जा मिले, लखमीपुर खीरी के किसानों के हत्यारों को फांसी की सजा मिले साथ ही मंदसौर जिले के किसानों को मांगों को प्रमुखता से रखा गया।