पानी का टेक्स भरने के बावजूद अशुद्ध पानी पीने को मजबूर (latest news in hindi danik patallok mandsaur)

मंदसौर। जलकर भरने के बाद भी लोग आरो का पानी खरीदने को मजबूर हो रहे हैं। क्षेत्र के 30 हजार से अधिक लोगों को शुद्ध पानी नहीं मिल रहा। जबकि नपा शासन की मदद से कुछ सालों में पेयजल योजना पर 1 अरब रुपए से अधिक खर्च कर चुकी है। इसके बाद भी नपा शहरवासियों को रोज पर्याप्त व शुद्ध पानी नहीं दे पा रही है। चंबल योजना से लेकर पाईप लाईन व टंकियों सहित अन्य कामों पर नगर पालिका जलापूर्ति के लिए पिछले कुछ समय में 1 अरब खर्च कर चुकी है फिर भी क्षतिग्रस्त लाईनों के कारण मटमैला पानी घरों तक पहुंच रहा है। बारिश के दौरान शहरवासियों को भी साफ पानी नहीं मिल रहा है।

शहर के जीवागंज, जनकूपुरा, नयापुरा रोड, शुक्ला चौक सहित आसपास के क्षेत्र में 2-3 दिन से नल में गंदा पानी आ रहा हैं। घरों में मटमैला व झागवाला पानी आ रहा है। बर्तन में पानी भरते समय झाग बन रहे हैं। वहीं पीलापन है। नपा के जिम्मेदार जल्द सुधार की बात कह रहे हैं। शिवना में अभी पानी का बहाव बना है जिससे मिट्टी की मात्रा अधिक मिल गई है। ऐसे में पूरी तरह से साफ करने में समय अधिक लग रहा है। समय पर सप्लाई बनाए रखने के लिए नपा ठेकेदार कम साफ पानी सप्लाई कर रहा है। अधिकारियों का कहना है कि क्षेत्र में गंदे पानी का पता लगाया जा रहा है। सभी लाइनें देखी जा रही हैं।