पर्युषण समापन पर विमलनाथ जैन मंदिर से निकाला वरघोड़ा(latest news in hindi danik patallok mandsaur)

पर्युषण समापन पर विमलनाथ जैन मंदिर से निकाला वरघोड़ा
पिपलिया स्टेशन (निप्र)। श्रावक के कत्र्तव्य में पर्युषण में चेत्र परिपाटी का उल्लेख है। उसकी पालना में शनिवार को भगवान को साथ लेकर विमलनाथ जैन मंदिर से वरघोड़ा निकाला। संघ अध्यक्ष अशोक कुमठ ने बताया पर्युषण के समापन पर सकल श्री संघ नगर में स्थित सभी जैन मंदिरों के दर्शन-वंदन के लिए जाता है। प्रातः 9 बजे बैंड-बाजों के साथ भगवान की प्रतिमा लेकर समाजजन जुलूस के रुप में निकले। दिगम्बर मंदिर के दर्शन के बाद जुलूस पुनः मंदिर आया। जुलूस में महिला-पुरुषों ने जगह-जगह नृत्य की प्रस्तुति दी। अक्षत व श्रीफल की गहुलियों के साथ भगवान का वन्दन किया। मंदिर में मंगल आरती, चैत्य वन्दन हुआ। आराधना भवन में मंदिर के पुजारी का शाॅल, श्रीफल व माला से बहुमान किया। इस अवसर पर शेतानमल रांका, अभयकुमार पोरवाल, वीरेन्द्र राणावत, अनिल जैन, मनोहरलाल लुणावत, पारस सकलेचा, अनिल आंचलिया, भावेष जैन, दीपेश जैन आदि उपस्थित थे। सामूहिक स्वामिवात्सल्य के साथ समापन हुआ।
——-