तीन छात्र ,दो शिक्षिका,  फिर भी समय पर नहीं खुलता स्कूल( latest news in hindi danik patallok mandsaur)

तीन छात्र ,दो शिक्षिका,  फिर भी समय पर नहीं खुलता स्कूल 
मंदसौर ।गरोठ विकासखंड के ग्राम ग्राम बावड़ी खेड़ा जहां दर्ज  छात्र संख्या मात्र तीन है और दो अध्यापिका ने कार्यरत है । वे भी समय पर स्कूल नहीं जाती है ,गांव वालों की शिकायत पर जब विकास खंड शिक्षा अधिकारी बीएस चौहान और जन शिक्षक अशोक व्यास स्कूल निरीक्षण पर गए तो प्रातः 11:10 तक स्कूल के ताले लगे हुए थे । उन्होंने पंचनामा बनाया और 1 दिन के वेतन काटने का आदेश दिया जो नियम नियमानुसार सही है ।

किंतु सरकार मात्र 3 छात्रों पर 2 शिक्षिकाएं का वेतन दे रहा है जबकि शिक्षिकाओं को छात्र सहित समीपस्थ विद्यालय में शिफ्ट किया जाना चाहिए था किंतु अभी तक इस संबंध में कोई कार्यवाही नहीं हुई है। जबकि राज्य शिक्षा केंद्र से इस संबंध में बार-बार निर्देश  मिले हैं पर उनका भी पालन नहीं हो रहा है।
 वही कलेक्टर के आदेश के बाद भी विद्यालयों के आसपास अतिक्रमण नहीं रुक रहे हैं ,ऐसा ही एक विद्यालय जस्सा खेड़ी का भी है जिसका भी निरीक्षण विकास खंड शिक्षा अधिकारी द्वारा किया गया तो पाया कि विद्यालय के चारों तरफ बाउंड्री वाल नहीं होने से गांव वालों ने अतिक्रमण कर लिए हैं और वहीं पर शौच  कर रहे हैं एवं गोबर की रोड़ी भी विद्यालय के पास बना रखी है ।
जहां प्रधानमंत्री स्वच्छता कार्यक्रम को लेकर पंचायत स्तर तक बड़े-बड़े होर्डिंग लगाए हैं पर जस्सा खेड़ी विद्यालय को देखकर नहीं लगता है कि प्रधानमंत्री की इच्छा के अनुसार यहां कहीं शौचालय बने हैं या नहीं ? निश्चिती शौचालय नहीं बने हैं तभी शौच के लिए विद्यालय के आसपास गांव के ही नागरिक शौच  कर रहे हैं ।
अधिकारियों को चाहिए कि वे इस और त्वरित कार्रवाई करें और जिले की शिक्षा व्यवस्था जो रसातल में जा रही है उसे दुरुस्त कर स्वच्छता और अतिक्रमण को हटवाकर छात्रों को स्वच्छ अध्यापन कार्य बिना विघ्न के करवा सकें।