तंतर की गांव मे एक अनोखी परम्परा (latest news in hindi danik patallok mandsaur)

नाहरगढ- आज भी परम्पराओ का पालन हो रहा है । ऐसा ही  गांव  ढाबला गुर्जर तहसील शामगढ  में पिछले कई वर्षो से गांव में तंतर की परंपरा है। पशुओ मे बिमारी आने पर तंतर गांव  मे करते है व काकड मे जाकर मसाले फेंकते है । पशुओ मे बीमारी आती ही तब निकाला जाता है । तंतर में मशाल बनाकर घर में जानवरों के ऊपर से घुमाकर व    निकालकर गांव से निकलते हुए 4 किमी दूर जंगल के काकड डाल कर आते है (तंतर का जय घोष मारू मारू हुई है) । इस तंतर में 2000 से ज्यादा मशाले निकली है सभी ग्रामवासी भाग लेते है । गांव ढाबला गुर्जर तहसील शामगढ़ जिला मंदसौर मे वर्षो से इस परम्परा का आयोजन होता आ रहा है योगेश पाटीदार ने बताया कि   पशुओ मे बीमारी आने पर गांव के काकड मे मशाले ले जाकर फेक देते  है । लम्पी वायरस संक्रमण भी चल रहा है ।