अक्टूबर को माँ दूधाखेड़ी माताजी को अर्पित की जाएगी 1101 फीट की चुनरी महाप्रसादी का होगा आयोजन, हजारों मातृशक्ति होगी सम्मिलित बैठक की तैयारियां अंतिम चरणों में, बैठक हुई आयोजित(latest news in hindi danik patallok mandsaur)

मन्दसौर। प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी महावीर फतेह करे सेवा संस्था बालाजी गु्रप द्वारा लगातार सातवें वर्ष शारदीय नवरात्रि में माँ दूधाखेड़ी माताजी को 1101 फीट की चुनरी पूज्य संतों के सानिध्य में चढ़ाई जाएगी। ‘‘मॉ जगत जननी चुनरी यात्रा’’ कालेश्वर मंदिर बर्डिया इस्तमुरार से निकलेगी जो विभिन्न गांवों से होते हुए माता दूधाखेड़ी के दरबार पहुंचेगी जहां पूजा अर्चना कर माताजी को चुनरी चढ़ाई जाएगी। तत्पश्चात मंदिर परिसर के समीप महाप्रसादी का आयोजन होगा जिसमें 15 हजार से अधिक लोग प्रसादी ग्रहण करेंगे।
बालाजी ग्रुप जिलाध्यक्ष लोकेन्द्र मंगल बैरागी ने बताया कि उक्त वृहद आयोजन की तैयारियों को लेकर बर्डिया इस्तमुरार स्थित कालेश्वर मंदिर परिसर में बैठक आयोजित हुई। जिसमें तैयारियों को अंतिम रूप दिया गया। बैठक में बालाजी ग्रुप के नवीन सौलंकी ने बताया कि  इस चुनरी यात्रा में 1101 फीट की चुनरी को थामे हजारों भक्त शामिल होेंगे। चुनरी यात्रा में डीजे, 10 ढोल, बग्गी में माता का दरबार भी शामिल होगा। इस चुनरी यात्रा में 10 हजार से अधिक महिलाओं को आमंत्रित किया है। जो माताजी की चुनरी को लेकर चलेगी। कलश धारण कर महिलाएं भी साथ चलेगी। यह यात्रा विभिन्न गांवों से होती हुई माँ दुधाखेड़ी के दरबार में पहुंचेगी जहां माता को यह विशाल चुनरी चढ़ाई जाएगी।
बैठक में दिलीप तुगनावत, विशाल शर्मा, देवीलाल राठौर, नागेश्वर पांचाल, मांगीलाल कुशवाह, अंकित बैरागी, उदयपाल पोपंडिया, राजेन्द्र तुगनावत, ललित गौड़, मोहन झाला, मधुसुदन बैरागी, विष्णु पांचाल, करणसिंह परिहार, संजय धाकड़, देवीलाल राठौर, रामनारायण धाकड़, गोविन्द गायरी, विशाल शर्मा, चम्पाराम विश्वकर्मा, दयाराम विश्वकर्मा, राजेन्द्र कुमार शर्मा,  लक्ष्मणसिंह राठौर, जेलरसिंह, भारूसिंह, उदयपाल धाकड़, कमल धाकड़, गोविन्द बना, दिलीप तुगनावत सहित बड़ी संख्या में आयोजन समिति के सदस्य उपस्थित थे। संचालन नवीन सौलंकी ने किया एवं आभार करणसिंह ने माना।