India vs Afghanistan Test: ऐतिहासिक टेस्‍ट में दो दिन में ही एक पारी और 262 रन से हारा अफगानिस्‍तान

बेंगलुरू:

नईनवेली अफगानिस्‍तान टीम के लिए उसका ‘ऐतिहासिक’ टेस्‍ट मैच बेहद बुरा अनुभव साबित हुआ. बेंगलुरू के चिन्‍नास्‍वामी स्‍टेडियम में खेले गए इस टेस्‍ट में वर्ल्‍ड की नंबर वन भारतीय टीम ने उसे दूसरे दिन ही एक पारी और 262 रन के बड़े अंतर से रौंदकर रख दिया. मैच के पहले दिन अफगानी गेंदबाजों ने भारत के छह विकेट झटकते उसे जिस तरह के संघर्ष का जज्‍बा दिखाया था, वह उसकी बल्‍लेबाजी में नदारद रहा. दोनों ही पारियों में उसके बल्‍लेबाजों ने बुरी तरह निराश किया. शिखर धवन और मुरली विजय के शतक की बदौलत भारतीय टीम ने पहली पारी में 474 रन का विशाल स्‍कोर बनाया था. इसके जवाब में अफगानिस्‍तान की पहली पारी दूसरे सेशन में 109 रन बनाकर ढेर हो गई थी और टीम को फॉलोआन के लिए मजबूर होना पड़ा था. अफगानिस्‍तान की दूसरी पारी का हाल अलग नहीं रहा और पूरी टीम 38.4 ओवर में 103 रन बनाकर पेवेलियन में जा बैठी. दूसरी पारी में हशमतउल्‍ला शाहिदी (नाबाद 36 रन) ही कुछ संघर्ष करते नजर आए. भारत के लिए रवींद्र जडेजा ने सर्वाधिक चार विकेट लिए. उमेश यादव ने तीन और ईशांत शर्मा ने दो विकेट लिए.

पारी के अंतर के लिहाज के लिहाज से भारत की यह सबसे बड़ी जीत रही. इससे पहले भारतीय टीम ने वर्ष 2007 में बांग्‍लादेश को एक पारी 239 रन से हराया था. मैच इस कदर एकतरफा रहा कि दो सेशन में ही अफगानिस्‍तान की दोनों पारियां समाप्‍त हो गईं. भारतीय गेंदबाजों को जीत के लिए महज 399 गेंदें फेंकनी पड़ी. शिखर धवन को उनकी शतकीय पारी के लिए मैन ऑफ द मैच घोषित किया गया.

पहला सेशन: 474 रन पर खत्‍म हुई भारतीय पारी

भारतीय टीम ने आज छह विकेट पर 347 रन के स्‍कोर से आगे खेलना शुरू किया. दूसरे दिन टीम इंडिया का पहला विकेट रविचंद्रन अश्विन (18) के रूप में गिरा, जिन्‍हें यासीन अहमदजई की गेंद पर विकेटकीपर अफसर जाजई ने कैच किया. भारतीय पारी को आगे बढ़ाने का दारोमदार अब बहुत कुछ पंड्या पर था जिन्‍होंने 89वें ओवर में राशिद खान को लगातार दो चौके जमाए.पारी के 95वें ओवर में जडेजा ने मोहम्‍मद नबी को छक्‍का लगाया. इसी ओवर में टीम इंडिया के 400 रन पूरे हुए.97वें ओवर में हार्दिक पंड्या ने नबी को चौका जड़कर अपना दूसरा टेस्‍ट अर्धशतक पूरा किया. इस दौरान उन्‍होंने 83 गेंदों का सामना करते हुए 7 चौके लगाए. भारतीय टीम का आठवां विकेट रवींद्र जडेजा (18) के रूप में गिरा, जो नबी की गेंद पर रहमत के हाथों कैच हुए. नौवें विकेट के रूप में पंड्या (71 रन, 94 गेंद, 10 चौके) आउट हुए. उन्‍हें वफादार ने विकेटकीपर जाजई से झिलवाया.पारी का अंत नजदीक देखते हुए उमेश यादव ने वफादार पर हमला बोलते हुए उनके ओवर में दो छक्‍के और दो चौके लगा डाले. ओवर में 21 रन बने और भारतीय स्‍कोर 450 के पार पहुंचा. आखिरी विकेट ईशांत शर्मा (8) के रूप में गिरा, जिन्‍हें राशिद खान ने एलबीडब्‍ल्‍यू किया. उमेश यादव 26 रन (दो चौके, दो छक्‍के) बनाकर नाबाद रहे.अफगानिस्‍तान के लिए यासीन अहमदजई ने सर्वाधिक तीन विकेट लिए. वफादार और राशिद खान के खाते में दो-दो विकेट आए.भारतीय टीम के आउट होते ही लंच घोषित कर दिया गया.

विकेट पतन: 168-1 (धवन, 28.4), 280-2 (विजय, 51.5), 284-3 (राहुल, 52.1), 318-4 (रहाणे, 66.3), 328-5 (पुजारा, 69.5), 6-कार्तिक (74.5), 369-7 (अश्विन, 85.5), 436-8 (जडेजा, 98.5), 440-9 (पंड्या, 99.2),474-10 (ईशांत, 104.5)

दूसरा सेशन: ताश के पत्तों की बिखरी अफगानी पारी

अफगानिस्‍तान की पारी मोहम्‍मद शहजाद और जावेद अहमदी ने शुरू की, लेकिन टीम लगातार विकेट गंवाती रही. मोहम्‍मद शहजाद को पारी के चौथे ओवर में हार्दिक पंड्या के थ्रो पर उन्‍हें रन आउट होना पड़ा.जल्‍द ही अफगान टीम को दूसरे ओपनर जावेद अहमदी (1) का विकेट भी गंवाना पड़ा जिन्‍हें ईशांत शर्मा ने बोल्‍ड किया.तीसरे विकेट के रूप में रहमत शाह (14) को उमेश यादव ने एलबीडब्‍ल्‍यू किया.उमेश ने इसके साथ ही टेस्‍ट क्रिकेट में विकेटों का ‘शतक’ पूरा किया. 35 के ही स्‍कोर पर अफगान टीम का चौथा विकेट भी गिर गया. अफसर जजाई (6) आउट होने वाले बल्‍लेबाज रहे, जिन्‍हें ईशांत ने बोल्‍ड किया. 10 ओवर के पहले ही मेहमान टीम के चार बल्‍लेबाज पेवेलियन लौट चुके थे.13वें ओवर में आक्रमण पर आए रविचंद्रन अश्विन ने अपने पहले ही ओवर में सफलता हासिल की. उन्‍होंने अफगानी कप्‍तान स्‍टेनिकजई (11) को बोल्‍ड किया. इस विकेट के साथ ही जहीर खान को पीछे छोड़कर अश्विन भारत के चौथे सबसे कामयाब गेंदबाज बन गए. उन्‍होंने जहीर के 311 टेस्‍ट विकेट के रिकार्ड को पीछे छोड़ा. 50 रन तक स्‍कोर पहुंचते-पहुंचते आधी अफगान टीम पेवेलियन लौट चुकी थी.अश्विन ने जल्‍द ही हशमतउल्‍ला शाहिद (11) को और रवींद्र जडेजा ने राशिद खान (7) को आउट करते हुए अफगानिस्‍तान पारी को अंत के के करीब पहुुंचा दिया.आठवां विकेट यामीन अहमदजई (0), नौवां विकेट मोहम्‍मद नबी (24) और आखिरी विकेट मुजीब उर रहमान (15) के रूप में गिरा.अहमदजई और नबी को अश्विन और मुजीब को रवींद्र जडेजा ने आउट किया. अफगानिस्‍तान की पारी 109 रन पर खत्‍म हुई. किसी भी टीम का अपने पहले टेस्‍ट में यह न्‍यूनतम स्‍कोर है.भारत के लिए आर. अश्विन ने 8 ओवर में 27 रन देकर सर्वाधिक चार विकेट लिए. रवींद्र जडेजा और ईशांत शर्मा को दो-दो विकेट मिले. अफगानिस्‍तान की पारी खत्‍म होते ही टी-ब्रेक घोषित कर दिया गया.

विकेट पतन: 15-1 (शहजाद, 3.6), 21-2 (अहमदी, 5.2), 35-3 (रहमत, 8.2), 35-4 (जाजई, 9.1), 50-5 (स्‍टैनिकजई, 12.3), 59-6 (शाहिदी, 16.4), 78-7 (राशिद, 21.3), 87-8 (अहमदजई, 24.5), 88-9 (नबी, 26.3), 109-10 (मुजीब, 27.5)

आखिरी सेशन: जडेजा, उमेश ने अफगानिस्‍तान पर बरपाया कहर

फॉलोआन के बोझ तले दबी अफगान टीम की दूसरी पारी की शुरुआत भी निराशाजनक रही. पहले सात ओवर में ही उसके चार बल्‍लेबाज पेवेलियन लौट गए. पारी के चौथे ओवर में  मोहम्‍मद शहजाद (13) को तेज गेंदबाज उमेश यादव ने विकेटकीपर दिनेश कार्तिक से कैच कराया. उमेश ने अपने अगले यानी पारी के छठे ओवर में दूसरे ओपनर जावेद अहमदी (3) और मोहम्‍मद नबी (0) को आउट करके मेहमान टीम की मुश्किल बढ़ा दी. जहां अहमदी का कैच दूसरी स्लिप पर शिखर धवन ने लपका, वहीं नबी एलबीडब्‍ल्‍यू हुए. अफगानिस्‍तान का चौथा विकेट रहमत शाह (4) के रूप में गिरा, जिन्‍हें ईशांत शर्मा ने शॉर्ट मिडविकेट पर कप्‍तान रहाणे से कैच कराया.चार विकेट गिरने के बाद हशमतुल्‍ला ने कप्‍तान स्‍टैनिकजई के साथ काफी समय तक भारतीय टीम को सफलता से वंचित रखा.इन दोनों ने भारतीय गेंदबाजों का बहादुरी से सामना करते हुए विकेट पर टिकने की इच्‍छाशक्ति दिखाई.इसके बाद लेग स्पिनर रवींद्र जडेजा ने जल्‍दी-जल्‍दी तीन विकेट लेते हुए भारत को जीत के करीब पहुंचा दिया. उन्‍होंने 24वें ओवर में स्‍टैनिकजई (25 रन, 58 गेंद, चार चौके, एक छक्‍का ) को धवन से कैच कराया. इसके बाद उन्‍होंने अफसर जाजई (2) और राशिद खान (12)को बोल्‍ड कर दिया. अफगानिस्‍तान का सातवां विकेट 82 के स्‍कोर पर गिरा.अफगान टीम का आठवां विकेट यासीन अहमदजई (1) के रूप में गिरा जिन्‍हें ईशांत ने बोल्‍ड किया.नौवें विकेट के रूप में मुजीब उर रहमान (3)आउट हुए, उन्‍हें रवींद्र जडेजा ने उमेश यादव से कैच कराया. जडेजा का यह चौथा विकेट रहा.अफगानी टीम का आखिरी विकेट वफादार के रूप में गिरा, जिन्‍हें अश्विन ने बोल्‍ड किया. भारत के लिए रवींद्र जडेजा ने सर्वाधिक चार और उमेश यादव ने तीन विकेट लिए. अफगानिस्‍तान की इस हार ने साबित कर दिया कि अभी टीम को टेस्‍ट क्रिकेट में खुद का स्‍थापित करने के लिए कड़ी मेहनत करनी होगी.

विकेट पतन: 19-1 (शहजाद, 3.6), 22-2 (अहमदी, 5.1), 22-3 (नबी, 5.5), 24-4 (रहमत, 6.3), 61-5 (स्‍टैनिकजई, 23.4), 62-6 (जाजई, 25.3), 82-7 (राशिद, 29.2), 85-8 (अहमदजई, 32.5), 98-9 (मुजीब, 35.6) ,103-10 (वफादार, 38.4)

इससे पहले, मैच के पहले दिन स्‍टंप्‍स के समय भारतीय टीम का स्‍कोर 6 विकेट पर 347 रन था. पहले दिन भारत के लिए शिखर धवन और मुरली विजय ने शतक जमाए थे. एक समय भारतीय टीम ने बिना किसी नुकसान के 168 रन बना लिए थे, लेकिन बाद में दिन के आखिरी सेशन में अफगान टीम ने अच्छी वापसी करते हुए अपने खिलाड़ियों और प्रशंसकों को मुस्कुराने का मौका दिया.चिन्‍नास्‍वामी स्‍टेडियम पर टीम इंडिया के कप्‍तान अजिंक्‍य रहाणे ने टॉस जीतकर पहले बैटिंग का फैसला किया था.

दोनों टीमें इस प्रकार थीं
भारत: अजिंक्य रहाणे (कप्तान), शिखर धवन, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, केएल राहुल, दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), हार्दिक पंड्या, रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, ईशांत शर्मा और उमेश यादव.
अफगानिस्तान: असगर स्‍टैनिकजई (कप्‍तान), मोहम्मद शहजाद, जावेद अहमदी, रहमत शाह, अफसर जाजई, मोहम्मद नबी, हशमतुल्ला शाहिदी, राशिद खान, मुजीबुर रहमान,  यामिन अहमदजई  और वफादार.

patallok

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account