स्थानीय संस्थाओं के चुनाव आगे बढ़ाने की कवायद

मन्दसौर। प्रदेश सरकार को अभी 6 महीने ही हुए हैं और इसी बीच लोकसभा चुनाव में भी व्यस्तता के कारण मुख्यमंत्री कमलनाथ अपनी कई योजनाएं को लागू नहीं कर पाए और नवंबर दिसंबर में फिर स्थानीय संस्थाओं के चुनाव आ गए जिसमें नगर पालिका, नगर निगम, ग्राम पंचायत, नगर परिषद, जनपद पंचायत, जिला पंचायत, जिला सहकारी बैंक, कृषि उपज मंडी के निर्वाचन लगभग नवंबर में आने की स्थिति में हैं किंतु सरकार लगभग स्थानीय संस्थाओं के इन संस्थाओं के चुनाव 3 से 6 में आगे बढ़ाने जा रही। कारण कि शासन के पास पैसा नहीं है और जनकल्याणकारी योजनाएं लागू नहीं हो पा रही है। इस कारण से सरकार इन संस्थाओं के चुनाव टालेगी क्योंकि प्रदेश की आर्थिक स्थिति जर्जर है और मुख्यमंत्री कमलनाथ पूरी तरह से मध्य प्रदेश की आर्थिक स्थिति को सुधारने में लगे हुए हैं, क्योंकि कर्मचारियों के वेतन देने के लिए भी सरकार को बाजार से उधार लेना पड़ रहा है ऐसी स्थिति में विकास कार्यों के लिए पैसा जुटाना भी सरकार के लिए सबसे बड़ी मुसीबत साबित हो रही है।
मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अपनी योजनाओं को प्रदेश की योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने के लिए मंत्री विधायक सप्ताह में 3 दिन अपने प्रभार के जिले में रहे और शासन की योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाएं, किंतु ऐसा होना संभव नहीं क्योंकि विधायकों मंत्रियों को अपने विधानसभा क्षेत्र में ज्यादा समय देना होता है। विधायक अपने क्षेत्र में दे सकते हैं किंतु प्रभारी मंत्री अपने प्रभार के जिले में 3 दिन का नहीं दे पाएंगे अगर भी सप्ताह में एक या दो दिन ही दे दें तो बहुत हैं यह बहुत बड़ी उपलब्धि होगी क्योंकि जिले के प्रभारी मंत्री हुकुमसिंह कराड़ा जो जल संसाधन मंत्री हैं मंदसौर के मंदसौर-नीमच के प्रभारी हैं किंतु वह पूरे 6 माह के कार्यकाल में बहुत कम मंदसौर जिले का दौरा कर पाये है ऐसी स्थिति में कार्यकर्ताओं के काम नहीं हो पाने से कांग्रेसी कार्यकर्ता हताश निराश हैं।
जिले में वैसे भी केवल सुवासरा क्षेत्र को छोड़ दें तो सभी जगह भाजपा के विधायक हैं सांसद भाजपा का है ऐसी स्थिति में कांग्रेस कार्यकर्ता उनके काम नहीं हो रहे हैं केवल जो कार्यकर्ता भोपाल तक बनाए हुए हैं वह अपना काम करवा पा रहे हैं किंतु आम कांग्रेसी कार्यकर्ता हताश निराश और उदास हैंं।

patallok

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account