NEWS :

वृद्धा से मारपीट कर लूटे जेवर

पालो रिपोर्टर = पिपलियामंडी
खिड़की तोड़ घर में घुसे लूटेरे, यहां सोई वृद्धा को उठाकर खेत में ले जाकर दिया वारदात को अंजाम
यहां अजय टॉकीज मार्ग पर सोमवार-मंगलवार की दरमियानी रात एक घर की खिड़की तोड़कर लूटेरे घर में घुसे और अकेली सोई वृद्ध महिला को उठाकर खेत में ले गए, जहां महिला से मारपीट के बाद पैर के कड़े, गले की चेन, कान के टॉप्स लूट ले गए। घायलावस्था में वृद्धा को जिला अस्पताल भर्ती कराया। इधर रहवासियों की सूचना पर प्रात: पुलिस अधिकारी भी पहुंचे।
प्राप्त जानकारी के अनुसार वार्ड तीन में चौपाटी-अजय टॉकीज मार्ग स्थित निवासरत नंदूबाई (85) पति रामलाल गुर्जर घर में अकेली सोई थी। रात करीब 1 बजे बदमाश लोहे की खिड़की तोड़कर घर में घुसे और नंदूबाई का मुंह दबाकर घर से निकालकर 300 फिट दूर खेत में ले गए। रहवासियों के अनुसार बदमाशों ने वारदात से पूर्व आस-पास घरों के बाहर से सांकल लगा दी। वृद्धा के चिल्लाने की आवाज आने पर लोगों के जाग जाने के बाद भी वे बाहर नहीं आ सके। बदमाशों ने वृद्धा के पैर के कड़े, गले की चेन व कान के टॉप्स लूटे, नथ लूटने की कौशिश भी की, इससे वह लहूलूहान हो गई। लूट की वारदात के कुछ देर बाद रहवासी व परिजन बाहर आए। खिड़की टूटी हुई देख कमरे में देखा तो नंदूबाई कमरे में नहीं थी, लेकिन कमरे में खून बिखरा हुआ था। जब तलाश की तो वह खेत में घायलावस्था में मिली। जिसे परिजन मंदसौर जिला अस्पताल ले गए। टीआई नरेन्द्र यादव ने बताया वृद्धा के पौत्र संदीप पिता राधेश्याम गुर्जर की रिपोर्ट पर अज्ञात बदमाशों के खिलाफ धारा 392 में लूट का मामला दर्ज किया। शीघ्र की आरोपियों को पकडऩे के प्रयास किए जा रहे हैं।
नहीं रूकी 100 डायल
बताया गया वारदात के कुछ देर बाद डॉयल 100 भी निकली, जिसे रहवासी हेमराज प्रजापत ने रोकाना चाहा, लेकिन चालक ने नहीं रोकी। इसको लेकर रहवासियों में आक्रोश देखा गया। इधर, जांच के लिए एडिनशल एसपी सुंदरसिंह कनेश, एसडीओपी दिलीप बिलवाल एफएसएल अधिकारी चंदा आंजना, फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट, पुलिस डॉग स्कावायड आदि भी मौके पहुंचे।
6 दिन में पकडऩे का आश्वासन
सुबह 9.30 बजे करीब कांग्रेस नेता श्यामलाल जोकचन्द्र, पार्षद कमल तिवारी, भूपेन्द्र महावर, मानसिंह चौहान, अनिल उस्ताद, जयेश सालवी, ललित पाटीदार, रामनिवास पाटीदार आदि पहुंचे और लूटेरों को पकडऩे की मांग को लेकर सड़क पर जाम लगा दिया। जाम के करीब 10 मिनिट बाद प्रात: 10 बजे टीआई नरेन्द्र यादव पहुंचे, उन्होंने 6 दिन के भीतर लूटेरों को पकडऩे का आश्वासन दिया, तब जाकर जाम खोला।
25 वर्ष पहले भी हो चूकी लूट
जानकारी के अनुसार नंदूबाई के साथ करीब पच्चीस वर्ष पूर्व भी इसी तरह लूट की वारदात हो चुकी है, उस समय वृद्धा सोई हुई थी और बदमाश नथ खिंचकर ले गए थे। इस वारदात में उन्हें नाक पर गंभीर चोंट आई थी।

patallok

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account