NEWS :

अब नए नाम से इन्वेस्टर्स मीट कराने जा रही है

सरकार का यू-टर्न

भोपाल। मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार यू-टर्न में नया रिकॉर्ड बनाने जा रही है। सीएम कमलनाथ ने चुनाव प्रचार के दौरान जिन बातों का विरोध किया था, जिन्हे गलत बताया था, अब वही काम किए जा रहे हैं। सीएम कमलनाथ ने इन्वेस्टर्स मीट को गलत बताया था। उन्होंने ऐलान किया था कि इन्वेस्टर्स मीट से निवेश नहीं आता। उन्हे मालूम में निवेश कैसे आता है लेकिन अब कमलनाथ सरकार इन्वेस्टर्स मीट की तैयारियां कर रही है। बस नाम बदल दिया गया है। शिवराज सिंह सरकार में जिस आयोजन को इन्वेस्टर्स मीट कहा जाता था कमलनाथ सरकार में उसी आयोजन को मैग्नीफिशेंट एमपी नाम दिया गया है।
दर्जनों मामलों में यू-टर्न ले चुकी है सरकार
कमलनाथ सरकार ने पिछले चार महीने से अब तक अफसरों के जो तबादले किए हैं, उनमें बार-बार संशोधन किए। वंदेमातरम् और मीसाबंदियों की पेंशन में भी सरकार ने यू-टर्न लिया। कुछ ऐसे मामले भी हैं जिनमें सरकार के फैसले लीक हुए और आधिकारिक आदेश जारी होने से पहले ही यू-टर्न लेना पड़ा।
वंदेमातरम् पर फैसला पलटा
कमलनाथ सरकार को पिछले कुछ दिनों में कई अहम मामलों में निर्णय लेने के बाद बैकफुट पर आना पड़ा है। सबसे पहला मामला वंदेमातरम् का था, मंत्रालय में हर महीने की पहली तारीख को होने वाला वंदेमातरम् गायन सरकार ने आनन-फानन में बंद कराया। चारों तरफ विरोध हुआ तो फिर शुरू करवा दिया।

patallok

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account