NEWS :

झूठे छेड़छाड़ केस पर शामगढ़ में प्रदर्शन

झूठे छेड़छाड़ केस पर शामगढ़ में प्रदर्शन

झूठे छेड़छाड़ केस पर शामगढ़ में प्रदर्शन

पुलिस ने की दोनों पक्षों पर कार्रवाई
मंदसौर। एक छेड़छाड़ के मामले में पुलिस द्वारा केस दर्ज करने के बाद शामगढ़ में कुछ लोगों ने प्रदर्शन किया। पुलिस ने मामले में दोनों पक्षों के खिलाफ कार्रवाई की है। बता दें कि प्रदर्शन छेड़छाड़ का झूठा मामला दर्ज करने को लेकर था।
पुलिस के अनुसार सोमवार रात बागरी मोहल्ला चौराहे पर एक विवाद हुआ। इस मामले में पुलिस ने फरियादी लाड़ली बी पति कालू पठान 32 साल निवासी बागरी मोहल्ला की रिपोर्ट पर दीपक पिता किशनदास बैरागी 39 साल निवासी सब्जी मंडी शामगढ़ के खिलाफ भादसं की धारा 354, 294, 506 के तहत केस दर्ज किया। मामले में फरियादी का आरोप है, कि वह अपने देवर जहीर के घर सब्जी देने जा रही थी। इसी दौरान चौराहे पर एक कुत्ता उसे पर भौंकने लगा। इस पर उसने उसे पत्थर उठाकर मार दिया तो यहां से खड़े दीपक ने उसे गाली दी और हाथ पकड़कर छेड़छाड़ की तथा बाद में जान से मारने की धमकी भी दी। इसी मामले में पुलिस ने दीपक बैरागी की रिपोर्ट पर कालू पिता सिराजूद्दीन पठान, उसके बेटे सद्दाम, पत्नी लाड़ली बी, समीर पिता बल्लू खा, रेहान उर्फ अन्ना खां पिता सेहराज खां, रिजवान पिता जाहिद खां के खिलाफ भादंसं की धारा 341, 323, 294, 506, 34 के तहत मारपीट का केस दर्ज किया। इस मामले में दीपक का आरोप है, कि वह अपना ढाबा मंगल करके घर जा रहा था। अभी वह बागरी मोहल्ला चौराहा पर ही पहुंचा था, कि उक्त लोगों ने एक पुरानी बात को लेकर उसके साथ मारपीट की। इधर, इस मामले को लेकर मंगलवार को बजरंग दल ने शामगढ़ में प्रदर्शन भी किया कि पुलिस ने दीपक पर झूठा केस दर्ज किया। गौरतलब है, कि दीपक बजरंग दल का पदाधिकारी बताया जा रहा है।

सड़क पार कर रहे किसान की बाइक की टक्कर से मौत
मंदसौर मंडी आ रही पिकअप साइड में खड़ी कर देवता को अगरबत्ती लगाने जा रहा था
पालो रिपोर्टर = मंदसौर

अफजलपुर क्षेत्र के पींडा-लदूसा मार्ग स्थित लूहारिया फंटे के पास मंगलवार सुबह साढ़े 11 मंदसौर मंडी पिकअप लेकर आ रहे कुछ किसानों ने पिकअप सड़क के साइड में खड़ी की और उनमें से एक सड़क पार कर देवता को अगरबत्ती लगाने जा रहा था। इसी दौरान अंधगति से आ रही बाइक ने उसे टक्कर मार दी, जिसे गंभीर अवस्था में जिला अस्पताल से उदयपुर रैफर किया। खबरों के अनुसार किसान की मौत हो चुकी है।
अफजलपुर पुलिस के अनुसार फरियादी भेरूसिंह पिता पर्वतसिंह राजपूत निवासी पींडा ने रिपोर्ट दर्ज करवाई कि वह पिकअप वाहन से कृषि उपज लेकर मंदसौर मंडी विक्रय के लिए जा रहा था। पिकअप में गांव के ही राजू पाटीदार, पुष्कर पाटीदार भी सवार थे। वे लोग लूहारिया फंटे पर सड़क किनारे स्थित देव स्थान पर अगरबत्ती लगाने के लिए रूके। पिकअप सड़क के एक साइड और देव स्थान सड़क के एक साइड था। एसे में पुष्कर पिकअप से उतरकर सड़कर पार करते हुए अगरबत्ती लगाने जा रहा था। इसी दौरान अंध गति से आ रहे बाइक चालक पंकज पिता मुकेश बागरी निवारी रिंडा ने उसे टक्कर मार दी। एसे में पुष्कर को गंभीर चौंट लगी। उसे जिला अस्पताल लाया गया, जहां गंभीर हालत में उसे उदयपुर ले जाया गया। बताया जा रहा है, कि वहां गंभीर हालत में पुष्कर की मौत हो गई।

सट्टे की ज़द में मंदसौर जिला
कचनारा फ्लेग से भैसोदा तक और मल्हारगढ़ से नाहरगढ़ तक सैंकड़ों खाईवालों ने सालों से जमा रखी है धाक
पालो रिपोर्टर = मंदसौर/सुवासरा

मंदसौर जिला पूरी-पूरी तरह सट्टे के दलदल में धसता ही चला जा रहा है। न सिर्फ जिला मुख्यालय बल्कि जिले के तमाम तहसील मुख्यालयों औैर ग्रामीणांचलों में सट्टा जमकर पनप रहा है। रतलाम की ओर से जिले के सिंह द्वार कहे जाने वाले कचनारा फ्लेग से लेकर राजस्थान की ओर जिले के सीमांत प्रहरी कहे जाने वाले गांधी सागर तक तथा नाहरगढ़ से लेकर पिपलिया मंडी तक समूचे जिले में सैंकड़ों खाईवालों ने सालों से एसी धाक जमाई हुई है, कि पुलिस भी इनका कुछ नहीं उखाड़ पा रही है। कुछ एसा ही उदाहरण इन दिनों सुवासरा में देखने को मिल रहा है।
सुत्रों के अनुसार भू-माफियाओं से लेकर दलालों तक का किसी जमाने में अड्डा बना सुवासरा नगर अब सटोरियों, जुआरियों और खाईवालों की गिरफ्त में है। खाकी की नाक में हरदम नखेल करने वाला ये वर्ग अब भी अपनी घिनोनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है और खाकी की नाक में तबियत से दम करने के बाद भी खाकी के बंदों के सर पर जू तक नहीं रेंगी, नगर के न्यू बस स्टैंड क्षेत्र की आधी से अधिक गुमटियों में ये गोरखधंधा बिना किसी खोफ के धड़ल्ले से संचालित हो रहा है जब कि इस काले व गोरखधन्धे ने कई लोगो की जिंदगियां तबाह करके रख दी है। फिर भी ये कुछ उत्पात सटोरिये और खाईवाल अपनी हरकतों से बाज नहीं आतें हैं। सुवासरा के न्यू बस स्टेण्ड क्षेत्र से लेकर तरनोद रोड और तहसील चौराहे से लेकर बालागंज महोल्ले तक मे ये धंधा परवान चढ़ रहा है। यदि खाकी अपनी पूरी टीम के साथ इस काम को नेस्तनाबूद करने का जिम्मा उठाये तो कई ऐसी नामी हस्तियां खाकी की गिरफ्त में होगी जिनका मकसद सिर्फ सट्टे और जुए का खेल खेलना और इसकी खाईवाली करना है। वही एक विशेष सूत्रों के हवाले से खबर है कि सुवासरा तहसील के ग्राम रूनिजा में वहां के बस स्टैंड की कई गुमटियों सहित आसपास के क्षेत्रों में सटोरिये अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। खाकी प्रशासन से अनुरोध है कि सुवासरा सहित रूनिजा में चल रहे इस सट्टा उद्योग पर लगाए नही तो ना जाने कितने घरों की बर्बादी का मंजर हमें देखने को मिलेगा।

patallok

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account