NEWS :

शिवराज सरकार ने किया 600 करोड़ का वृक्षारोपण घोटाला-सीएम

कमलनाथ ने नटराजन के समर्थन में शामगढ़ की सभा को किया संबोधित, कहा प्रदेश सरकार ने 75 दिन में पूरे किए 83 बड़े वायदे
पालो रिपोर्टर = शामगढ़

पूर्व मुख्यमंत्री ने पेड़ लगाने का काम करने का प्लान बनाया था और लगभग 600 करोड़ रुपए वृक्षारोपण घोटाले के नाम पर सरकार ने दिए और भ्रष्टाचार किया। यह पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान द्वारा वृक्षारोपण के लिए लगाए गए 600 पेड़ एक साथ कही भी दिखाई नहीं दिए। यह सबसे बड़ा घोटाला है और इसकी भी जांच की जाएगी। विपक्ष का आरोप है, कि हमने कर्जमाफी नहीं की बल्कि किसानों को छला है तो शिवराजजी पहले जाकर अपने भाई और भतीजे से ही पूछ लें कि कर्ज माफ हुआ कि नहीं। क्यों कि मेरे पास जो सूची है उसमें उनके ग्राम के 94 किसान शामिल है। उनमें उनका भाई और भतीजा भी है।
यह बात मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शामगढ़ में कांग्रेस प्रत्याशी मीनाक्षी नटराजन के समर्थन में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए शुक्रवार को कही। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार ने ऐसा प्रदेश हमें सौपा था जो किसान आत्महत्या में नंबर वन, युवा बेरोजगारी में नंबर वन एवं बलात्कार एवं महिला अत्याचार में नंबर एक पर था। ऐसे बदहाल प्रदेश में हमने 75 दिन में 83 बडे वादे वचन पत्र के पूरे किए हैं। हमारी सरकार बोल वचन की नहीं बल्कि वचन निभाने वाली सरकार है। हमने प्रदेश के अब तक 21 लाख किसानों का कर्जा माफ किया है। प्रदेश की 70 प्रतिशत आबादी खेती से जुडी है। कमलनाथ ने कहा कि किसानों का दाम नहीं, युवाओं को काम नहीं तो फिर मोदी सरकार किस काम की। मुख्यमंत्री ने लोकसभा कांग्रेस प्रत्याशी मीनाक्षी नटराजन की प्रशंसा करते हुए कहा कि आपकी उम्मीदवार सरल और सज्जन है। उनकी समाजसेविका की छाप है। वे आपके विश्वास पर खरा उतरेगे। आपको बस 19 मई को अपने भविष्य का बटन दबाना है। इससे पूूर्व लोस कांग्रेस उम्मीदवार मीनाक्षी नटराजन ने सभा को संबोधित करते हुये कहा कि यह चुनाव देश और क्षेत्र का भविष्य तय करने वाला चुनाव है। देश की सामाजिक सौहाद्र, देश के अर्थतंत्र सहित समूचे ढांचे को अगर मजबूत और जीवित रखना है तो हमें केन्द्र में कांग्रेस के नेतृत्व में सरकार का गठन करना होगा। उन्होनें कहा कि देश का प्रतिभावान युवा बेकार पडा है, उस प्रतिभा का उपयोग देशहित में करना जरूरी है। अगर राहुलजी के नेतृत्व में हमारी सरकार बनती है तो युवाओं को सही मायने में रोजगार और देशसेवा से जोडेगे। देश का व्यापार नोटबंदी एवं जीएसटी से चैपट हुआ है। मुख्यमंत्रीजी द्वारा राहुलजी के कहे अनुसार तत्काल कर्ज माफी की है, भाजपाजन कर्जमाफी को झूठलाने की नाकाम कोशिश कर रहे है। कांग्रेस प्रत्याशी नटराजन ने क्षेत्र के विकास का व्यापक दृष्टीकोण प्रस्तुत करते हुये कहा कि मंदसौर संसदीय क्षेत्र को कृषि क्षेत्र, रोजगार, व्यापार सभी पहलुओ में आगे बढाते हुये आत्मनिर्भर बनाना उनका लक्ष्य है। क्षेत्र के जनमानस के विश्वास को मजबूत करने का कार्य हमारी सरकार करेगी। इस मौके पर मंच पर प्रदेश कांग्रेस, जिला कांग्रेस, ब्लॉक कांग्रेस के अलावा विभिन्न विभागो के अध्यक्षगण भी मंचासीन थे। संचालन पार्षद महेश सोनी ने किया। आभार शामगढ नगर कांग्रेस अध्यक्ष माणक सेठिया ने माना।
मंच पर यह थे उपस्थित
युवा कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष केशवचंद, पूर्व मंत्रीगण सोजतिया, नरेंद्र नाहटा, पुष्पा भारती, किशोर पाटीदार, कार्यकारी जिलाध्यक्ष राकेश पाटीदार, परशुराम सिसौदिया, राजेंद्रसिंह गौतम, पूर्व जिला अध्यक्ष मुकेश काला, युवक कांग्रेस राष्ट्रीय सचिव सोमिल नाहटा, युकां जिलाध्यक्ष प्रकाश पटेल, मनोज पाटीदार, राकेश पाटीदार, आशीष पाटीदार, साधना मेहता, पूर्व मंडल अध्यक्ष दिनेश चौधरी, सुरेश जोशी, जगदीश मेहता, प्रमोद, महेंद्र झांब, मुन्ना विश्वकर्मा, पंकज मुजावदिया, माणक सेठिया आदि मंच पर उपस्थित रहे।
आप तय करें कौन उम्मीदवार सही-डंग
विधायक हरदीप सिंह ने संबोधित करते हुए कहा कि एक तरफ कमिशन की सरकार है और एक तरफ ईमानदारी की सरकार है। आप तय करें कि भाजपा और कांग्रेस के उम्मीदवार में से कौन सा उम्मीदवार सही है। कौन ईमानदारी की पाठशाला में पढ़ा है और कौन कमिशन में पढा है। यह आपको तय करना है और कांग्रेस को जिताना हैं।
सरकार मंदसौर से चलेगी भोपाल से नहीं
मुख्यमंत्री ने विधायक डंग की प्रशंसा करते हुए कहा कि डंग यहां मेरे प्रतिनिधि के रूप में उपस्थित हैं और अब मंदसौर जिले की सरकार भोपाल से नहीं बल्कि सुवासरा विधायक हरदीप डंग के आदेश से चलेगी और भोपाल की सरकार भी अब मंदसौर जिले के आदेश से ही चलेगी।
हेलिपेड पर इनने की अगवानी
धामनिया स्थित हेलीपैड पर मुख्यमंत्री कमलनाथ का स्वागत क्षेत्रीय विधायक हरदीप सिंह डंग, पूर्व मंत्री सुभाषकुमार सोजतिया, ब्लाक अध्यक्ष दुलेसिंह, सोनू जायसवाल, मंडलम अध्यक्ष फिरोज अगवान, राजू पटेल, दीपक परिहार, गोरा पठान, जीतू, केजी नरेश पंजाबी, पवन पांडे, प्रदीप मुजावदीया आदि ने किया।

Shri Natrajan


नटराजन आम जनता में बैठे
यहां एक पिता ऐसे भी थे जिनने अपनी बेटी के समर्थन में सभा करने आए मुख्यमंत्री को जनता के बीच बैठकर सुना। जी हां यहां बात हो रही है कांग्रेस उम्मीद्वार मीनाक्षी के पिता नटराजन की। ये बुजुर्ग शख्सियत कौन है पहले तो कईयों को पता नहीं था, लेकिन पता चलने के बाद इनसे जब बातचीत की तो आभास हुआ की सादगी ही जीवन की सबसे बड़ी दौलत है। इस दौरान एक व्यक्ति ने उनसे नाम पुछा तो वे साउथ इंडीयन लहजे में बोले मेरा नाम नटराजन है। फिर पूछा की मीनाक्षी नटराजन से आपका क्या कनेक्शन है तो तपाक से बोले वो मेरी बेटी है। मीनाक्षी तो उसका नाम है नटराजन मेरा नाम है और हमारे इसमें बेटी के पिता और पति के नाम को ही सरनेम लिखा जाता है। दरअसल मीनाक्षी दक्षिण भारतीय ब्राम्हण है। इनके पिता श्री नटराजन रतलाम में एक नीजी कम्पनी में पदस्थ थे। मीनाक्षी ने रतलाम से ही छात्र राजनीति में पदार्पण करते हुए युकां के राष्ट्रीय अध्यक्ष जैसे ओहदे पर पहुंचकर सांसद तक का सफर तय किया है।

patallok

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account