NEWS :

पवन तनय संकट हरण मंगलमूर्ति रूप…

आज जन्मेंगे राम भक्त हनुमान
जिलेभर में होंगे अनेक धार्मिक अनुष्ठान, एक दिन पूर्व बालाजी ग्रुप ने निकाला चल समारोह
पालो रिपोर्टर = मंदसौर

पवन तनय संकट हरण मंगलमुर्ति रूप… श्री बालाजी महाराज के जयकारों हनुमान जन्मोत्सव के उपलक्ष्य में अष्टमुखी पशुपतिनाथ की नगरी गूंजायमान होगी। चहूं ओर राम भक्त हनुमान के जन्मोत्सव की धुम रहेगी। कहीं मंदिरों पर भजन संध्या, कहीं नयनाभिराम श्रृंगार तो कहीं भंडारों का आयोजन हनुमान जन्मोत्सव में चार चांद लगाएगा। जिलेभर में उत्सव धुमधाम से मनाया जाना, जिसके चलते गुरूवार रात तक भी पर्व की तैयारियां हनुमान मंदिरों पर चलती रही। इधर, श्री महावीर फतेह करे बालाजी ग्रुप ने हनुमान जन्मोत्सव की पूर्व संध्या शहर में एक चल समारोह भी निकाला।
कहते हैं, इस कलयुग में यदि उस ब्रम्ह स्वरूप को कोई अंश इस धरा पर है, तो वो पंच देव के रूप में माना गया है। इन्हीं पंचदेव में से एक भगवान श्रीराम के परम भक्त बालाजी महाराज का जन्मोत्सव 19 अप्रैल को जिलेभर में हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा। इस दौरान अनेक स्थानों पर भंडारों सहित विभिन्न धार्मिक अनुष्ठान होना है। हनुमान जयंति के विभिन्न आयोजनों के चलते दशपुर धाम जय हनुमान ज्ञान गुन सागर, जय कपिस तीहुं लोग उजागर के जयकारों से गूंजायमान होगा। 19 अप्रैल को सुबह से ही जिले के हनुमान मंदिरों में भक्तों को हुजूम उमडऩा प्रारंभ हो जाएगा, जो देर रात तक चलता रहेगा। जिला मुख्यालय स्थित तलाईवाले बालाजी मंदिर, पंचमुखी बालाजी मंदिर, बड़े बालाजी मंदिर, तीन छत्री बालाजी मंदिर, बड़वाले बालाजी मंदिर, खड़े बालाजी मंदिर, तोपवाले बालाजी मंदिर, यश बालाजी मंदिर, रणवीर बालाजी मंदिर, तांबाखाई बालाजी मंदिर, उद्योगपति बालाजी मंदिर, मंशापूर्ण बालाजी मंदिर, कृषिपति बालाजी मंदिर, पानपुर बालाजी मंदिर आदि स्थानों पर विभिन्न धार्मिक अनुष्ठानों की छड़ी सुबह से ही लगी रहेगी। अनेक स्थानों भंडारों के आयोजन होना है। इसी तरह शहरभर के हनुमान मंदिरों को हनुमान जयंति के उपलक्ष्य में दुल्हन की तरह सजाया गया है। आकर्षक विद्युत सज्जा और पुष्प लताएं देखते ही बन रही है। इस दौरान बालाजी प्रतिमाओं को भी मनोरम श्रृंगार किया जाएगा।
तलाई वाले बालाजी पर होगी भजन संध्या
श्री तलाई वाले बालाजी मंदिर में श्री हनुमान जन्मोत्सव के तहत विभिन्न धार्मिक आयोजनों का क्रम जारी है। जन्मोत्सव की शुरूआत बुधवार को पूजन अर्चन एवं श्री रामचरितमानस पाठ के साथ हुई थी। इसके बाद पंचकुण्डात्मक यज्ञ का आयोजन हुआ। विद्वान ब्राह्म्णों द्वारा श्री हुनमत महायज्ञ सम्पन्न करवाया गया। त्रिवेदी ने बताया कि 19 अप्रैल को प्रात: 4 बजे से हवन प्रारंभ होगा। प्रात: 6 बजे महाआरती की जाएगी। इसके पश्चात 7 बजे से सामूहिक आहुति भक्तजन करेंगे। इस अवसर पर प्रसाद वितरण भी महाआरती पश्चात किया जाएगा। सायंकाल मंदिर प्रागंण में भव्य भजन संध्या का आयोजन भक्त मंडल की ओर होगी।
यहां होगी शाही महाआरती
हनुमान जन्मोत्सव के चलते नेहरू बस स्टैंड स्थित बड़े बालाजी मंदिर का श्रृंगार देखते ही बन रहा है। मंदिर के विशेष श्रृंगार में आसपास लहरा रही भगवा पताकाएं इस श्रृंगार को और भी आकर्षित बना रही है। 19 अप्रैल की शाम यहां विशेष शाही विशाल महाआरती होना है, जिसमें देश के विभिन्न क्षेत्रों के ढोल-नगाड़ों सहित विभिन्न आकर्षण शामिल होंगे।

चल समारोह ने बढ़ाया उत्साह
हनुमान जन्मोत्सव की पूर्व संध्या बालाजी गु्रप द्वारा नेहरू बस स्टैंड से प्रारंभ हुए चल समारोह ने पर्व का उत्साह दुगना कर दिया। शहर के विभिन्न मार्गों से निकले इस चल समारोह का विभिन्न स्थानों पर स्वागत हुआ। रक्तदान महादान की झांकी, बालाजी महाराज का रथ, अखाड़े, कलश धारण कर चल रही महिलाएं, भजनों की धुन पर थिरकते युवाओं का हुजूम चल समारोह के मुख्य आकर्षण रहे।

patallok

leave a comment

Create Account



Log In Your Account