NEWS :

अखेपुर की एक शादी में पहुंचे मंदसौर के बाराती

मामला: अनिल सोनी हत्याकांड का
चुन्नू की तलाश में शादी में पहुंची मंदसौर पुलिस, दिनभर भटकती रही पुलिस नहीं मिला चुन्नू
पालो रिपोर्टर = मंदसौर

अनिल सोनी हत्याकांड में भले ही पुलिस अहम सुराग मिलने से लेकर पूरी पिक्चर क्लियर होने का दावा कर रही हो, लेकिन अब तक इस पिक्चर के मेन विलन चुन्नू लाला तक पुलिस को पहुंचने में कोई सफलता हाथ नहीं लग पाई है। बताया जा रहा है, कि बुधवार को मंदसौर पुलिस अखेपुर में आयोजित एक विवाह समारोह में चुन्नू की तलाश में पहुंची, लेकिन पुलिस दिनभर भटकती रही और चुन्नू नहीं मिल सका।
बताया जा रहा है, कि इन दिनों अखेपुर में एक शादी की धुम मची हुई है। बुधवार को शादी का मुख्य समारोह था और इधर, मंदसौर पुलिस को अनिल सोनी हत्याकांड के मास्टर माईंड चुन्नू लाला के इस शादी समारोह में शिरकत करने की खबरें मिली। इसके बाद तत्काल हरकत में आई मंदसौर पुलिस ने एक दल को अखेपुर रवाना किया। दिनभर यह दल यहां चल रहे शादी समारोह पर नजरे गाढ़े रहा, लेकिन चुन्नू उन्हें कहीं नजर नहीं आया। समाचार लिखे जाने तक यह दल अखेपुर में ही था। तब तक पुलिस के हत्थे कुछ नहीं लग सका था। इधर, खाकी के आला अधिकारियों की माने तो मंदसौर पुलिस के विभिन्न दल चुन्नू की तलाश में लगातार सक्रिय हैं।
चुन्नू की प्रॉपर्टियों पर पहुंची पुलिस
इधर, सूत्रों की माने तो अब चुंकि चुन्नू लगातार पुलिस गिरफ्त से फरार चल रहा है, तो पुलिस उसकी अचल संपत्तियों की जानकारी जूटाना शुरू कर रही है। एसे में बुधवार को पुलिस के विभिन्न दल चुन्नू की जिला मुख्यालय स्थित अचल संपत्तियों पर पहुंची। इस दौरान पुलिस स्टेशन रोड स्थित चुन्नू की उस दुकान पर पहुंची, जहां वर्तमान में किराए से शराब दुकान चल रही है। इसी तरह बीपीएल चौराहे पर पेट्रोल पंप पर चल रही कानपुर जूता सेल पर भी पहुंची, तो वहीं नई आबादी स्थित चुन्नू की मल्टी की जानकारियां भी जूटाई। खबरों के मुताबित पुलिस को नई आबादी की मल्टी व स्टेशन रोड की दुकान चुन्नू की होने के साक्ष्य तो मिल गए, लेकिन बीपीएल के बंद पड़े पेट्रोल पंप की भूमि में चुन्नू या उसके परिवार के लोगों की क्या भूमिका है उसकी लगातार पुलिस सर्चिंग कर रही है।
इरफान भाई देते हैं किराया
पुलिस ने जब बीपीएल चौराहा स्थित कानपुर जूता सेल पर दबिश दी तो तत्काल यहां टेंट आदि से पूरी दुकान ढकवाकर बंद करवा दी और यहां से एक काली शर्ट वाले सहित दो युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ के लिए कोतवाली ले जाया गया। बताया जा रहा है, कि ये दोनों युवक सेल संचालित करते हैं। इनने पुलिस को बताया कि हमें भूमि मालिक की कोई जानकारी नहीं हैं। बस इतना पता है, कि हमारी सेल के मालिक इरफान भाई ही किराए का लेनदेन करते हैं। दरअसल पुलिस बीपीएल वाली भूमि की पूरी तह तक पहुंचना चाहती है, कि इस भूमि का मालिक कोई अकेला ही बंदा है या कि पार्टनरशीप में ये गेम हुआ है तो कितने पार्टनर हैं आदि।
अन्य राज्यों की पुलिस का लिया जा रहा सहयोग
इस मामले को लेकर एसपी विवेक अग्रवाल पूरी तरह गंभीरता दिखा रहे हैं। वे हर पहलू और छोटे से छोटे बिंदु पर गहनता से सोच विचार कर कदम उठा रहे हैं। एसे में पुलिस को यह भी आशंका थी, कि चुन्नू या इस केस से जुड़ा कोई भी अपराधी सीमावर्ती राजस्थान या अन्य किसी राज्य के किसी थाने में सरेंडर नहीं कर दे। सूत्र बता रहे हैं, कि इस मामले में भी मंदसौर पुलिस ने राजस्थान सहित कई राज्यों की पुलिस से सहयोग की अपेक्षा की है, कि इस तरह का कोई भी आरोपी उनके राज्य क्षेत्र के किसी भी थाने में सरेंडर करने पहुंचे तो सूचना पहले मंदसौर पुलिस को दी जाए। बताया जा रहा है, कि मंदसौर पुलिस के हत्थे चढऩे से पहले चुन्नू कहीं अन्य राज्य में सरेंडर करना चाहता है, लेकिन धीर-गंभीर कप्तान की योजनाबद्ध कार्यप्रणाली के चलते उसकी दाल कहीं नहीं गल रही है।
क्या कहते है जिम्मेदार
फिलहाल हमारी टीमे गई हुई है। अखेपुर वाला दल अभी लौटा नहीं है। इसलिए कुछ नहीं बता पाउंगा। मामले में लगातार सर्चिंग जारी है।
-मनकानाप्रसाद, एएसपी

patallok

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account