NEWS :

निजी संस्थानों पर राजनीतिक दलों की बिना अनुमति लगी प्रचार सामग्री हटाई गई

गरोठ। स्थानीय प्रशासन ने लोकसभा चुनाव को लेकर निजी संस्थानों बिना अनुमति के लगे राजनीतिक दलों के झंडे बैनर व अन्य प्रचार सामग्री हटाने की कार्रवाई शुरू की है। पहले दिन कार्यवाही के दौरान मंडल भाजपा अध्यक्ष राजेश सेठिया के संस्थान तथा निवास पर लगी प्रचार सामग्री हटाई गई है वहीं दूसरी ओर कार्यवाही के दौरान वार्ड क्रमांक 13 में प्रचार सामग्री हटाने गये दल को एक कांग्रेस कार्यकर्ता द्वारा परमिशन होने की जानकारी देकर अमले को बैरंग लौटा दिया तो अमले ने जानकारी निकालकर दूसरी बार जाकर लगे बैनर को हटाया है।पहले दिन नगर में करीब 10 निजी स्थानों पर बिना अनुमति के लगे प्रचार सामग्री हटाने की बात दल प्रभारी द्वारा कही गई है।
उल्लेखनीय है कि कलेक्टर द्वारा चुनावी समीक्षा बैठक के दौरान निर्देशित किया था कि बिना अनुमति के निजी संस्थानों निवास स्थानों पर राजनीतिक दलों के लगाए गए झंडे,बैनर तथा अन्य प्रचार सामग्री सख्ती से हटाई जाए इसके बाद बुधवार को गरोठ में प्रशासन इस दिशा में सक्रिय हुआ और नगर में बिना अनुमति के निजी संस्थानों पर लगी सामग्री हटाना शुरू की जिसके तहत सहकारिता निरीक्षक व निर्वाचन फ्लाइंग स्कॉयड अधिकारी अनिल जैन, सहायक उप निरीक्षक पुलिस सीपीएस तोमर तथा अन्य कर्मचारियों के साथ पहुंचे कार्यवाही के दौरान दल ने मंडल भाजपा अध्यक्ष राजेश सेठिया के प्रतिष्ठान तथा निवास पर लगे भाजपा के झंडे व अन्य प्रचार सामग्री हटाई।
वार्ड 13 में पहली बार नहीं हटा
पाए बैनर
इसके बाद दल वार्ड क्रमांक 13 में पहुंचा जहां पर कांग्रेस का लगा एक बैनर उतारने लगा इस दौरान दोनों पक्षों में कुछ देर के लिए विवाद की स्थिति बन गई।सामग्री हटाने गए दल को वार्ड पार्षद ललित चंदेल तथा कांग्रेस कार्यकर्ता द्वारा परमिशन होने की जानकारी दी जिसके बाद दल उस समय तो बिना बैनर हटाए वापस लौट गया जिसके पश्चात दल में स्थानीय निर्वाचन कार्यालय से जानकारी निकाली तो उस स्थान पर बैनर लगाने की अनुमति संबंधित जानकारी नहीं मिल पाई जिसके बाद पुन: दल प्रभारी ने दूसरे कर्मचारी पहुंचे और बैनर को उतार दिया।
पहले दिन 10 जगह कार्यवाही, आगे भी जारी रहेगी
निजी संस्थानों पर पहले दिन करीब 10 जगह से राजनीतिक दलों की बिना अनुमति की लगी प्रचार सामग्री हटाई गई है इस दौरान मंडल भाजपा अध्यक्ष के दो संस्थानों पर भी लगी सामग्री हटाई गई है।वार्ड 13 में दल को कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा जिला स्तर से परमिशन होने की बात कही गई है परंतु स्थानीय निर्वाचन कार्यालय में इस संबंध में कोई परमिशन नहीं है जिसके कारण दूसरी बार पहुंचकर प्रचार सामग्री को हटाया गया है। आने वाले दिनों में बिना अनुमति के राजनीतिक दलों की प्रचार सामग्री हटाने का की कार्यवाही लगातार जारी रहेगी।
अनिल जैन, फ्लाइंग स्क्वायड अधिकारी निर्वाचन, गरोठ

patallok

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account