NEWS :

यदि कोई अड़ंगे भी लगा रहा है तो मैं उसे गलत नहीं कहता…

सीएम ने मुझे संतुष्ठ किया मैं कांग्रेस में ही रहूंगा
सुवासरा विधायक ने अपने भाजपा में शामिल होने की अफवाहों का प्रेस वार्ता के माध्यम से किया पटाक्षेप, कहा मेरी कुछ शंकाएं थी जो सीएम ने की दूर, शंकाओं की जानकारी नहीं दे पाए डंग
पालो रिपोर्टर = मंदसौर

संसदीय क्षेत्र के इकलोते विधायक हरदीपसिंह डंग ने आज प्रेस कांफ्रेस में डंका बजाकर यह तो कह दिया कि वे कांग्रेस के है, कांग्रेस में ही रहेंगे लेकिन पिछलों दिनों चली उनकी बीजेपी में जाने की अफवाह को लेकर वे उद्वेलित भी दिखे… उन्होंने यह तो माना कि कुछ बातों से उन्हें गुरेज था… इस शक्को-शुब्हा को लेकर आलाकमान ने उनका ब्रेन वाश भी कर दिया… पहले संभाग और अब संसदीय क्षेत्र में भाजपा की आंधी डंग के टापू को छू भी नहीं पाई बावजूद इसके उन्हें मंत्री मंडल में न लेना यहां को आवाम को खला है फिर भी सहृदय हरदीप इस सवाल को भी बड़े सलीखे से टालते हुए यह कह गये कि यह क्षेत्र के लिये जरूरी था… सियासी चौसर पर जनप्रतिनिधियों को बहुत सी बार ढाई घर चलने होते है… इसलिए इस प्रेस वार्ता को उनके शतरंज की चाल के पासे के रूप में भी देखा जा रहा है।
मैं कांग्रेस में था, कांग्रेस में हूं और हमेशा कांग्रेस में रहूंगा। बस एसे की कुछ मेरी व्यक्तिगत शंकाएं थी, जिस पर मेरी मुख्यमंत्री कमलनाथ, सिंधियाजी, दिग्विजयसिंहजी से बैठकर बात हो गई है, जिस पर उनने मुझे पूरी तरह संतुष्ठ कर दिया है। जो शंकाएं है थी वे कार्यकताओं की कुछ बातें थी, क्षेत्र के विकास को लेकर कुछ बातें थी। यह बात सुवासरा विधायक हरदीपसिंह डंग ने शुक्रवार दोपहर जिला मुख्यालय पर प्रेस वार्ता में कही। गौरतलब है, कि लोस चुनाव के एन पहले सुवासरा विधायक के भाजपा में शामिल होने की जो चर्चाएं बाजार में चल पड़ी थी उन्हीं का पटाक्षेप व पूर्ण विराम लगाने के लिए डंग ने ये प्रेस वार्ता आयोजित की थी।
रेलवे स्टेशन रोड स्थित होटल ऋतुवन में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान सुवासरा विधायक डंग ने अपने आपके भाजपा में शामिल होने की खबरों को सिरे से खारिज करते हुए महज अफवाह करार दिया व कहा कि मैं सिर्फ अपने कार्यकर्ताओं जो कि मेरा परिवार है उस परिवार में बैठकर कोई बात कर रहा था, जिसे शब्दों का फैरबदल कर जनता के बीच परोसा गया है। मप्र में दलालों का राज तो पहले था अब तो मैं माननीय मुख्यमंत्रीजी का धन्यवाद देता हूं कि उनने दलालों से प्रदेश को मुक्ति दिला दी है। हां यह सही है, कि मेरी कुछ बिंदुओं पर सरकार से नाराजगी थी, जो मुख्यमंत्री कमलनाथ, सिंधियाजी व दिग्विजयसिंहजी के साथ बैठक के बाद दूर हो गई है। उनने मेरी सारी शंकाओं को दूर कर दिया है। आपकी क्या शंका थी एसी जो मुख्यमंत्री को आपको मनाना पड़ा? इस प्रश्न का उत्तर बार-बर पूछे जाने पर भी विधायक डंग पूरी प्रेस वार्ता में गोल करते रहे। कुल मिलाकर वे जो असमंजस अब तक जनता के बीच पहुंचा था सरकार से उनकी नाराजगी को लेकर वो इस प्रेस वार्ता के माध्यम से भी स्पष्ट नहीं कर पाए। एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि मैं सरपंच से लेकर विधायक तक कर्मचारियों और अधिकारियों से कैसे काम लेना है कैसे विकास कार्य करवाना है। ये अच्छी तरह से जानता हूं और कोई कर्मचारी या अधिकारी काम नहीं कर रहा ये तो संशय ही नहीं है। मुझे सभी कर्मचारियों और अधिकारियों का अब तक पूरा सहयोग मिलता रहा है। भ्रष्टाचार के मुद्दे पर किसी का स्थानांतरण करवाना और किसी के द्वारा उसे केंसल करवाना ये सब बातें कहां से आ रही है मैं खुद इनसे दु:खी हूं। जबकि मैंने किसी का स्थानांतरण नहीं करवाना चाहा। भाजपा वाले निमंत्रण तो दे ही नहीं सकते। क्योंकि वो मेर को जानते हैं कि हरदीपसिंह डंग जहां पर है मजबूत है। भाजपा से न मेरे पास कोई निमंत्रण आया है और न ही आएगा।
दीदी के नेतृत्व में मंदसौर सीट जितेंगे
उन्होंने कहा कि कांग्रेस मीनाक्षी दीदी के नेतृत्व में प्रचंड मतों से जितेंगी। नटराजन एक संघर्षशी, जूझारू और सरल महिला है, जिनका यह स्वभाव क्षेत्र की जनता और कार्यकर्ता अच्छे से जानते हैं। इसी तरह 72 हजार प्रति गरीब परिवार को देने वाली राहुल जी की महत्ती योजना न्याय के माध्यम से केंद्र में भी हमारी सरकार बन रही है। मैं कमलनाथजी को भी किसानों की ऋण माफी के लिए धन्यवाद देना चाहूंगा, कि जो वायदा उनने किया वो पूरा किया। एक मांग और गौशाला की थी जिसके लिए मुख्यमंत्रीजी ने प्रदेश में एक हजार गौशालाएं बनाने का आदेश दे दिया है।
सीएम मेरा फोन उठाते हैं
सीएम आपका फोन नहीं उठाते? इस प्रश्न के उत्तर में हरदीप ने कहा कि पूर्व सरकार में भी सीएम मेरा फोन उठाते थे और मेरी सुनवाई की जाती थी और इस सरकार में भी सीएम मेरा फोन उठाते हैं। सीएम से मेरी सीधी बात होती है। हां ये सही है कि कुछ बातों पर मेरी नाराजगी थी जो कमलनाथजी ने बैठकर दूर कर दी है। मुझे कमलनाथजी ने कोई फटकार नहीं लगाई है। यह भी महज एक अफवाह है।
मंत्री पद क्षेत्र की आवश्यक्ता
आपको मंत्री बनाने का आश्वासन दिया है क्या? इसके उत्तर में डंग ने कहा कि मंत्री पद व्यक्तिगत मेरे लिए नहीं चाहिए, लेकिन इस पूरे क्षेत्र के लिए पहले संभाग में इकलोता था और अब संसदीय क्षेत्र में अकेला हूं। प्रदेश की विस में मंत्री के रूप में इस क्षेत्र से नेतृत्व यदि मिलता है, तो क्षेत्र की जनता और क्षेत्र के लिए महत्वपूर्ण है ये जनता व कार्यकर्ताओं की मांग है और आवश्यक्ता भी। मैंने मेरी तरफ से कभी आगे रहकर नहीं कहा कि मुझे मंत्री बना दो।
मैं सच हूं मुझे कोई नहीं रोक सकता
एसा नहीं लगता कि कहीं न कहीं क्षेत्र के वरिष्ठ नेता आपके आगे बढऩे या मंत्री बनने में कोई रोक लगा रहे हो? इसके उत्तर में उन्होंने कहा कि कोई किसी को रोक नहीं सकता आपमें यदि क्वालिटी है आप में यदि सच्चाई है तो ईश्वर आपका साथ देता है। मेर को कहीं न कहीं भगवान का आशीर्वाद है। यदि कोई अडंगे भी लगा रहा हो तो मैं उसे गलत नहीं कहता।

patallok

leave a comment

Create Account



Log In Your Account