NEWS :

सभी अनुमतियों के लिए ऑनलाइन सुविधा प्राप्त होगी-धनराजू एस

जिला पंचायत सभाकक्ष में स्टेडिंग कमेटी की बैठक सम्पन्न
मंदसौर। जिला निर्वाचन अधिकारी धनराजू एस की अध्यक्षता में जिला पंचायत सभाकक्ष में स्टेडिंग कमेटी की बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में पुलिस अधीक्षक विवेक अग्रवाल, सीईओ जिला पंचायत आदित्य सिंह, अपर कलेक्टर अनिल कुमार डामोर, एमसीएमसी समिति के नोडल ईश्वर चौहान, व्यय लेखा के नोडल संदीप शिवा, सहायक नोडल विजय सिंह नरेटी व अश्विनी कटारिया, वीवीपीएटी के नोडल भट्ट, ई-गवर्नेंस प्रबंधक नरेंद्र कुमार सहित मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के प्रतिनिधिगण मौजूद थे। बैठक का संचालन जेके जैन द्वारा किया गया एवं पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से जानकारी दी गई।
कलेक्टर धनराजू एस ने राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों को जिले में लोकसभा निर्वाचन से संबंधित व्यवस्थाओं के संबंध में विस्तार से अवगत कराया। उन्होंने बताया कि जिले में 2019 की स्थिति में 9 लाख 64 हजार मतदाता है। जिले में 11 हजार 734 दिव्यांग मतदाता है। इन मतदाताओं के लिए सुगम्य एप के माध्यम से निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार आवश्यक सुविधाए प्रदान की जा रही है। ईवीएम मशीनों को प्रथम रेंडोमाइजेशन 30 मार्च दोपहर 12 बजे से किया जाएगा। इस रेंडोमाइजेशन के माध्यम से ईवीएम मशीनों का विधानसभा वार आवंटन किया जाएगा।
बैठक में बताया गया कि लोकसभा निर्वाचन कि मतगणना की व्यवस्था भी पिछले विधानसभा चुनाव की भांति राजीव गांधी पीजी कॉलेज में की जाएगी। बैठक में भारत निर्वाचन आयोग द्वारा आमसभा, वाहन, रैली आदि की अनुमति के लिए सुविधा एप की जानकारी दी गई तथा प्रतिनिधियों से ऑनलाइन आवेदन कर अनुमति लेने के लिए कहा गया। सी-विजिल के संबंध में अवगत कराया गया। मतदान के दिन व मतदान के 1 दिन पूर्व अगर कोई विज्ञापन प्रिंट मीडिया में प्रकाशित होता है तो उसे एमसीएमसी समिति से प्रमाणन की आवश्यकता होगी। वहीं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया को विज्ञापन के लिए आदर्श आचरण संहिता लागू होने से ही प्रमाणन की आवश्यकता होगी। सोशल मीडिया पर मतदान के 48 घंटे पूर्व चुनाव प्रचार प्रसार पूर्णतया प्रतिबंध रहेगा।
ऑनलाइन एप्प के माध्यम से शिकायतें दर्ज करें
बैठक में पुलिस अधीक्षक विवेक अग्रवाल ने शांति पूर्ण निर्भीक, स्वतंत्र व निष्पक्ष लोकसभा चुनाव सम्पन्न कराने के लिए जिले में सुरक्षा बलों की तैनाती के संबंध में अवगत कराया। उन्होंने एफएसटी व एसएसटी की कार्रवाईयों, अवैध शराब के विक्रय व परिवहन की रोकथाम, शस्त्र जमा कराने, क्रिटिकल मतदान केंद्रों के साथ ही पुलिस द्वारा की गई प्रतिबंधात्मक कार्रवाईयों से अवगत कराया। लोक सभा निर्वाचन से संबंधित शिकायतें ऑनलाइन एप्प के माध्यम से कर सकते हैं। साथ ही सभी प्रकार की गतिविधियां की अनुमति प्राप्त करके कार्य करें।

patallok

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account