NEWS :

विधायक व नपाध्यक्ष गए 24 ताणी के पिछे

सांसद की उम्मीदवारी की खुशियां मनाना पड़ा महंगा, अभियोजन ने किया जमानत का विरोध, कोर्ट ने भेजा जेल
पालो रिपोर्टर = नीमच

लोकसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी सुधीर गुप्ता की उम्मीद्वारी पर खुशियां जताना विधायक दिलीपसिंह परिहार व नपाध्यक्ष राकेश जैन को महंगा पड़ गया। कोर्ट ने उनकी जमानत याचिका का विरोध कर रहे अभियोजन के तर्कों से सहमत होकर दोनों को 24 ताणी के पिछे भेज दिया है। गौरतलब है, कि दोनों पर पूर्व में विस चुनाव के दौरान भी आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज हो चुका है।
यह जानकारी देते हुए जिला अभियोजन अधिकारी, आरआर चौधरी ने बताया कि 23 मार्च 2019 को भाजपा प्रत्याशी सुधीर गुप्ता को लोकसभा टिकिट मिलने की खुशी में फव्हारा चौक नीमच पर फटाके फोड़कर खुशी का इजहार कर जुलूस निकाला गया तथा बीजेपी के झंडे लहराए जा रहे थे, जो भाजपा विधायक दिलिपसिंह परिहार व नपाध्यक्ष द्वारा बिना अनुमति के जुलूस निकाल कर आचार संहिता का उल्लघंन किया गया। जिस पर से थाना नीमच केंट के अपराध धारा 188 भादवि के अतंर्गत पंजीबद्ध किया गया। पुलिस नीमच केंट द्वारा आरोपियों को न्यायालय में पेश किया गया था, जहां पर आरोपी ने जमानत आवेदन प्रस्तुत किया। यहां एडीपीओ चंद्रकांत नाफड़े ने जमानत आवेदन का विरोध करते हुए कहा कि आरोपी द्वारा पूर्व में भी आचार संहिता का उल्लंघन किया गया जिस कारण पूर्व आपराधिक रिकार्ड को देखते हुए जमानत आवेदन खारिज किया जाना चाहिए। अभियोजन के तर्कों से सहमत होकर नीरज मालवीय, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट नीमच द्वारा आरोपी वर्तमान विधायक परिहार एवं नपाध्यक्ष निवासी नीमच का जमानत आवेदन को खारिज कर जेल भेजने का आदेश दिया।

patallok

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account