NEWS :

भाजपा ने जताया फिर गुप्ता पर भरोसा

लोकसभा चुनाव : 2019/भाजपा ने प्रदेश की पहली लिस्ट जारी की
मंदसौर लोकसभा सीट से सुधीर गुप्ता का नाम प्रथम पन्द्रह नामों में शामिल हुआ है, जाहिर है दिल्ली के गलियारों में घूमते फिरते अमित शाह जैसे दिग्गज जिनका नाम अपनी नीली डायरी में नोट कर लेते है उनमें ”भई साबÓÓ शामिल है लोकसभा के प्रश्नकाल में अपनी विद्वता का लोहा मनवाना भी उनका गुण माना गया। सुधीर गुप्ता संघ की पृष्ठ भूमि के बौद्धिक प्रखरता वाले थिंक टेंक माने जाते है, लोकसभा में गंभीर विषयों की समझ रखने और उन पर पार्टी के विचार रखने वालों की भी जरूरत होती है लोकसभा सांसद ‘नाली खरंजोÓ से ऊपर उठकर राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों की पकड़ रखने वाला होना चाहिए इस कसोटी पर ‘भई साबÓ खरे उतरे है यानि उनके विरोधी जिन सब्जेक्ट पर बात करने के लिए याने कि इस्राइल और नेपाल जैसे देशों पर कार्यकर्ताओं के बीच चर्चा करने के लिए उनका मजाक उड़ाते थे वो उनका प्लस पॉइंट साबित हुआ। पिछले याने कि २०१४ में मोदी लहर थी जिसमें उन्होंने तीन लाख से अधिक वोटों से दीदी मीनाक्षी को हराया था। इस लिहाज से २०१९ सुधीर गुप्ता के लिए कड़ी परीक्षा साबित होगा क्योंकि अमित शाह, नरेन्द्र मोदी की जोड़ी के नेतृत्व में भाजपा इस बार बहुमत पाने के लिए कुछ भी कर गुजरने को तैयार है और ऐसे में सुधीर गुप्ता पर एक बार फिर विश्वास जताना उनका कद बड़ा कर देता है।
भारतीय जनता पार्टी ने मंदसौर लोकसभा से एक बार फिर वर्तमान सांसद सुधीर गुप्ता पर भरोसा जताते हुए अपना उम्मीदवार घोषित किया। सांसद गुप्ता 2014 में मंदसौर संसदीय क्षेत्र से उम्मीदवार घोषित हुए थे। उन्होने कांग्रेस की मीनाक्षी नटराजन को रिकार्ड साढ़े तीन लाख वोटो से पराजित किया था। सांसद सुधीर गुप्ता को क्षेत्र में विकास के प्रति जागरूक और उनके कार्यों का मूल्यांकन को देखते हुए पुन: संसदीय क्षेत्र से अपना उम्मीद्वार चुना। सांसद सुधीर गुप्ता ने हर मोर्चे पर अव्वल रहे। चाहे रेलवे के विकास की बात हो या अफीम किसानों के लिए लंबी लड़ाई की बात हो। हर क्षेत्र में विकास को लेकर जागरूक रहें। रेलवे की बात करें तो नीमच रतलाम दोहरीकरण, नीमच-बड़ी सादडी नई रेलवे लाईन, नवीन ट्रेनों का चालन, मुख्य ट्रेनों का स्टॉपेज सहित स्टेशनों के विस्तारीकरण हुआ है। वहीं कृषि क्षेत्र में नई अफीम नीति बनाकर क्षेत्र में अफीम किसानों को राहत दी वहीं चार गुना अफीम पट्टे करवाएं। वहीं अरोबों रूपए के सिंचाई योजनाओं को लेकर कार्य किया। केन्द्र की लगभग हर योजनाओं में संसदीय क्षेत्र देश व प्रदेश में अव्वल रहा। चाहे वह प्रधानमंत्री आवास योजना हो या, सौभाग्य योजना या फिर उज्जवला योजना। हर योजना में संसदीय क्षेत्र देश में चमका है।

patallok

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account