NEWS :

अंतिम चरण में मंदसौर संसदीय क्षेत्र को मिलेगा मौका

17.४४ लाख मतदाता चुनेंगे भारत सरकार, सर्वाधिक 2.5५ लाख मतदाता सुवासरा विस में, सबसे कम 1.6७ लाख मतदाता नीमच में
पालो रिपोर्टर = मंदसौर

रविवार शाम देशभर में आम चुनावों की घोषणा होते ही आदर्श आचरण संहिता लागू हो गई। मप्र में चार चरणों में चुनाव होना है, जिसमें मंदसौर संसदीय क्षेत्र की जनता को सबसे आखरी चरण 19 मई को होने वाले आम चुनावों में मतदान का मौका मिलेगा। इस दिन समूचे संसदीय क्षेत्र के 17 लाख 44 हजार 952 मतदाता भारत सरकार चुनेंगे। इनमें पुरूषों की संख्या 8 लाख 93 हजार 770 है, तो वहीं महिलाओं की संख्या 8 लाख 51 हजार 149 है। इसी तरह अन्य मतदाता कुल 27 होंगे। संसदीय क्षेत्र की कुल आठ विस में सर्वाधिक 2 लाख 55 हजार 410 मतदाता सुवासरा विस में हैं। इसी तरह सबसे कम जावद विस में 1 लाख 67 हजार 897 मतदाता हैं।
सुशासन भवन में आयोजित एक प्रेस वार्ता में संसदीय क्षेत्र निर्वाचन अधिकारी धनराजू एस ने आचार संहिता की घोषणा करते हुए बताया कि चुनाव पूरी तरह निष्पक्ष व निरपराध संपन्न करवाने की तैयारियों की जानकरी देते हुए बताया कि पूरे संसदीय क्षेत्र का मुख्यालय मंदसौर शहर ही रहेगा। निर्वाचन आयोग ने अपने तई तमाम तैयारियां पूर्ण कर ली है। अधिक से अधिक लोग मतदान करें व मतदान का प्रतिशत पिछले चुनावों की अपेक्षा और बढ़े इसके लिए तमाम प्रयास किए जाएंगे। पुलिस बल ने किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए विशेष ट्रैनिंग ले ली है। यदि कोई भी व्यक्ति आदर्श आचरण संहिता का उल्लंघन करता है, तो उस पर धारा 144 के प्रावधानों के तहत कार्रवाई की जाएगी। जिले के सभी मुख्य मार्गों पर कड़ी वाहन चैकिंग सहित आसपास के जिलो की बार्डर सील की जाएगी। संवेदनशील मतदान केंद्रों का निरीक्षण कर लिया गया है। चुनाव के दौरान वहां कोई भी अप्रिय घटना न घटे इसकी विशेष व्यवस्थाएं रहेगी। वारंटियो, आदतन अपराधियों आदि पर कार्रवाई की जाएगी। आवश्यक्ता पडऩे पर अतिरिक्त पुलिस बल की मांग भी की जा सकती है। चुनाव के दौरान तमाम प्रक्रिया पर कड़ी नजर रखने के लिए एक विडियो टीम भी बनाई है। चुनाव संबंधित किसी भी तरह की जानकारी के लिए विशेष हैल्प लाइन नंबर 1950 भी जारी किए गए हैं।
कप्तान ने कहा
प्रेस वार्ता में मौजूद कप्तान विवेक अग्रवाल ने कहा कि धारा 144 के दौरान सोशल मीडिया पर भी पुलिस की कड़ी नजर रहेगी। किसी भी तरह की भड़काउ पोस्ट डालने वाले पर तुरंत कार्रवाई की जाएगी। अपराधियों पर अधिक से अधिक नकेल कसने का प्रयास किया जाएगा। आम चुनाव में सुरक्षा की दृष्टि से होमगार्ड सैनिक, जिला पुलिस बल, एसएएफ व सीआरपीएफ के जवान हमारे पास है। बावजूद इसके कोई आवश्यक्ता पड़ती है तो अतिरिक्त बल भी बुलवाया जाएगा। अवैध शराब सहित मोटर व्हिकल एक्ट की अधिक से अधिक कार्रवाईयां की जाएगी। रात 10 से सुबह 6 बजे तक लाउड स्पीकर प्रतिबंधित है। इसके अलावा भी इसका उपयोग करने के लिए अनुमति लेना होगी।
कब क्या होगा
22 अप्रैल अधिसूचना जारी
29 अप्रैल तक नामांकन दाखिल
30 अप्रैल नाम निर्देशन पत्रों की जांच
2 मई नाम वापसी अंतिम तिथि
19 मई मतदान
23 मई मतगणना

patallok

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account