लुटेरी दुल्हन गैंग सहित गिरफ्तार, जेवरात ओर नगदी चुराने का आरोप

मंदसौर। विगत दिनों रामटेकरी पर लूटेरी दुल्हन और उसकी गैंग ने एक परिवार के साथ धोखाधड़ी की थी। इस मामले में पुलिस ने दुल्हन और उसके साथियों को गिरफ्तार कर लिया है। एक और आरोपी की तलाश इस मामले में की जा रही है। कोतवाली पुलिस ने बताया कि श्यामलाल माहेश्वरी निवासी रामटेकरी सत्यम विहार के द्वारा अपने बेटे प्रवीण की शादी के लिये लडकी की तलाश की जा रही थी । इस बीच उनकी मुलाकात मंगला देवी निवासी रतलाम से होती है जो शादी के लिए लडकी होने की बात बताती है । 16 अप्रैल को मंगला देवी अपने साथ लडकी आरती बिंद उसके रिश्तेदार अर्जुन प्रजापति व पूजा को लेकर आई। इसके बाद मंगला देवी व सारे रिश्तेदार आरती बिंद को श्यामलाल के घर पर छोडकर तथा शादी की तैयारी के नाम पर 02 लाख रुपये लेकर व 02 दिन बाद वापस आने का बोलकर फरियादी के घर से चले गए । दिनांक 18. अप्रैल को फरियादी जब बाजार गया हुआ था तो आरती बिंद ने फरियादी की पत्नि विष्णु बाई व बडी बहु प्रियंका की चाय मे नशीला पदार्थ मिलाकर पिला दिया तथा घर मे रखे हुए आभूषण व नगदी 1 लाख रुपये लेकर फरार हो गई । पुलिस ने श्यामलाल माहेश्वरी की शिकायत पर केस दर्ज किया। घटना की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक मंदसौर अनुराग सुजनिया द्वारा निरीक्षक अमित सोनी थाना प्रभारी शहर कोतवाली को तत्काल कार्यवाही हेतु निर्देशित किया। निरीक्षक अमित सोनी द्वरा तत्काल एक टीम गठित की जिसमे सउनि होकम सिंह राणावत,कार्य.प्रआर अर्जुन सिंह आर भानुप्रताप सिंह व मआर राम कुंवर को आरोपीयो की गिरफ्तारी हेतु रवाना किया गया । पुलिस टीम द्वारा अपनी व्यवसायिक दक्षता का परिचय देते हुए तत्काल कार्यवाही कर मंगला देवी को रतलाम से,आरती बिंद को इटारसी होशंगाबाद से व अर्जुन प्रजापति को भोपाल से गिरफ्तार किया गया। व आरोपीयो से नगदी व आभूषण जप्त किये गए। फरार आरोपीया पुजा की तलाश जारी है।